नवादा : पीएचसी में तैनात आयुष चिकित्सक की कोरोना से मौत, स्वास्थ्य महकमे में शोक का माहौल

नवादा : पीएचसी में तैनात आयुष चिकित्सक की कोरोना से मौत, स्वास्थ्य महकमे में शोक का माहौल

NAWADA : जिले के वारिसलीगंज प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में कार्यरत आयुष चिकित्सक डॉ धनंजय कुमार सिन्हा का असामयिक निधन कोरोना से हो गया। वे 45 वर्ष के थे। सोमवार की सुबह पटना के एक निजी क्लीनक में उन्होंने अंतिम सांसे ली। बताया गया कि डॉ धनंजय एक माह पूर्व सड़क दुर्घटना में जख्मी हो गए थे। तब से वे राजधानी पटना के हिमालया नामक निजी अस्पताल में इलाज करवा रहे थे। इसी दौरान वे कोरोना से भी संक्रमित हो गए थे। कोरोना ने उन्हे इस कदर अपनी आगोश में लिया की उससे उबर नहीं सकेे। चिकित्सक मूलत: नालंदा जिला के निवासी बताए गए हैं। 

चिकित्सक की आकस्मिक मौत की सूचना मिलते ही वारिसलीगंज पीएससी में शोक व्याप्त हो गया। प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ आरती अर्चना के नेतृत्व में पीएचसी वारिसलीगंज के सभागार भवन में शोक सभा आयोजित हुआ। दिवंगत आत्मा की शांति के लिए चिकित्सकों व स्वास्थ्यकर्मियों ने ईश्वर से प्रार्थना की।

शोक सभा के बाद पीएससी वारिसलीगंज आकस्मिक सेवा को छोड़कर एक दिन के लिए बंद कर दिया गया। मौके पर डॉ रामकुमार, डॉ अनिकेत व स्वास्थ्य कर्मी व बड़ी संख्या में आशा कार्यकर्ता उपस्थित थी।

नवादा से अमन सिन्हा की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News