बिहार में आरक्षण के बाद रोजगार में महिलाएं निभा रही हैं बराबर हिस्सेदारी, खुलेआम कर रही हैं शराब की बिक्री, देख लीजिए

बिहार में आरक्षण के बाद रोजगार में महिलाएं निभा रही हैं बराबर हिस्सेदारी, खुलेआम कर रही हैं शराब की बिक्री, देख लीजिए

GAYA : बिहार में शराबबंदी का पूरा श्रेय बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार महिलाओं को देते हैं। यही वजह है कि महिलाओं को बिहार में 30% आरक्षण के बजाय 50% आरक्षण देने की घोषणा बिहार सरकार ने किया है। क्योंकि नीतीश सरकार जानती है कि महिलाओं के वजह से ही बिहार में पूर्ण शराबबंदी सफल है , लेकिन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को इस वीडियो के देखने के बाद उनका यह भ्रम टूट जाएगा , क्योंकि बिहार के गया में खुल्लम खुल्ला देसी शराब की बिक्री महिलाएं कर रही हैं। जिसका जीता जागता उदाहरण यह वायरल वीडियो है। वायरल वीडियो , बिहार में शराबबंदी को धता बताने के लिए पर्याप्त है। 

ताजा वीडियो गया के प्रेतशिला इलाके का बताया जा रहा है , जहां खुलेआम एक महिला ₹80 बोतल देसी शराब बेच रही है। यह वायरल वीडियो गया के प्रेतशिला स्थित कोरमा चिड़ियाठाढ़ गांव का बताया जा रहा है। इस वीडियो में साफ-साफ यह बोलते सुना जा सकता है कि देसी शराब की कीमत 80 रुपये प्रति बोतल है , जिससे एक महिला द्वारा बेचा जा रहा है। हम आपको बता दे कि यह वायरल वीडियो गया शहर के चनौती थाना क्षेत्र के प्रेतशिला के पास चिडियाताड़ गाव का है और शराब बेचने  वाली महिला का नाम सुशिला देवी और शिवनारायण चौधरी है । बताया जा रहा है  इसका में सरगना का नाम है बजरंगी चौधरी है।

बता दें कि बिहार में शराबबंदी को लेकर हमेशा से ही सवाल उठाए जाते रहे हैं। जिस तरह यहां के युवाओं में शराब की तस्करी कमाई की बड़ा जरिया बन चुका है, उसी तरह अब महिलाएं भी इस धंधे से जुड़ती जा रही  है। जो कि बेहद चिंता  का विषय है, क्योंकि बिहार में शराबबंदी कानून को मुख्य आधार ही महिलाओं पर होनेवाले अत्याचार को रोकना है। 


Find Us on Facebook

Trending News