गिरफ्तारी के बाद इंजीनियर की 3.44 करोड़ रुपये की संपत्ति भी हुई जब्त, आय से अधिक धन अर्जित करने का है मामला

गिरफ्तारी के बाद इंजीनियर की 3.44 करोड़ रुपये की संपत्ति भी हुई जब्त, आय से अधिक धन अर्जित करने का है मामला

पटना. प्रवर्तन निदेशालय ने आई से अधिक संपत्ति मामले में कार्रवाई करते हुए रेलवे के सीनियर सेक्शन इंजीनियर चंद्रेश्वर प्रसाद यादव की 3.44 करोड़ की संपत्ति को जब्त कर लिया है. उनके खिलाफ सीबीआई ने आय से अधिक संपत्ति का मामला दर्ज किया था. बता दें कि ईडी ने रेलवे का स्क्रैप बेचने के मामले में पूर्व रेलवे जमालपुर के तत्कालीन सीनियर सेक्शन इंजीनियर चंद्रेश्वर प्रसाद यादव को गिरफ्तार किया था.

इस मामले में मेसर्स श्री महारानी स्टील के मालिक देवेश कुमार को 13 अगस्त को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था. अभियुक्तों पर आरोप है कि रेलवे के स्क्रैप को मोटी रकम लेकर महारानी स्टील को औने-पौने दाम में बेच दिया था. इसके कारण रेलवे को लगभग 34 करोड़ रुपये का चूना लगा था. उक्त स्क्रैप के कस्टोडियन तत्कालीन सेक्शन इंजीनियर चंद्रेश्वर प्रसाद यादव ही थे. इस मामले में कंपनी के फाइनांसर राकेश कुमार ने बताया था कि उक्त स्क्रैप को खरीदने के लिए रेलवे के पदाधिकारियों को मोटी रकम दी गयी थी.

इस मामले में सीबीआइ ने भी नौ फरवरी, 2018 को मामला दर्ज किया था और मामले की जांच की जा रही है. ईडी ने इस मामले को 28 फरवरी, 2020 में दर्ज की थी. पूछताछ के बाद तत्कालीन सेक्शन इंजीनियर चंदेश्वर प्रसाद यादव व मेसर्स महारानी स्टील के मालिक देवेश कुमार के नाम सामने आये थे और फिर दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया.


Find Us on Facebook

Trending News