गया में फूलों का रीसाइकलिंग कर बनाया जा रहा है अगरबत्ती, देश विदेश में है भारी मांग

गया में फूलों का रीसाइकलिंग कर बनाया जा रहा है अगरबत्ती, देश विदेश में है भारी मांग

GAYA : बिहार में पूर्ण शराबबंदी को लागू करने के उद्देश्य से सम्पूर्ण बिहार में प्रशासन द्वारा बड़े बड़े शराब के ठिकानों पर व्यापक पैमाने पर छापेमारी किया जा रहा है। साथ ही शराब का आवागमन को रोकने के लिए सभी टोल प्लाजा/चेक पोस्ट पर बाहर से आने वाले वाहनों की सघन जांच की जा रहा है। 

इसी परिप्रेक्ष्य में आज ज़िला पदाधिकारी, गया अभिषेक सिंह एवं वरीय पुलिस अधीक्षक, गया आदित्य कुमार द्वारा बाराचट्टी थाना अंतर्गत डोभी चेक पोस्ट का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के क्रम में जिलाधिकारी को बताया गया कि चेक पोस्ट के इर्द गिर्द 40 सीसीटीवी कैमरे लगे हुए है, परंतु उसमे कुछ कैमरे खराब स्थिति में हैं। जिलाधिकारी ने सहायक आयुक्त, उत्पाद को निदेश दिया कि अविलम्ब खराब सीसीटीवी कैमरे की ठीक करवाना सुनिश्चित करें। साथ ही उन्होंने निदेश दिया कि सभी सीसीटीवी का नंबरिंग कराते हुए उसे डिस्प्ले करवाना सुनिश्चित करेंगे ताकि सभी सीसीटीवी कैमरों पर निगरानी रखी जा सकें। बताया गया कि चेक पोस्ट पर लगे कुछ स्ट्रीट लाइट खराब हैं, जिलाधिकारी ने राष्ट्रीय राजमार्ग के अभियंता को निदेश दिया कि सभी स्ट्रीट लाइट को बनवाना सुनिश्चित करें। ज़िला पदाधिकारी द्वारा चेक पोस्ट पर बने कार्यालय का निरीक्षण किया गया, जहां कार्यरत डाटा इंट्री ऑपरेटर से कार्यों के बारे में पूछताछ किया गया। वरीय पुलिस अधीक्षक द्वारा चेक पोस्ट पर प्रतिनियुक्त सभी पुलिस बल की उपस्थिति पंजी का अवलोकन किया गया। उन्होंने उपस्थित उत्पाद इंस्पेक्टर को निदेश दिया कि जो भी वाहन बाहर राज्य से आते हैं, विशेषकर जो झारखंड एवं बंगाल से आते हैं, उनका सघन जांच करने के बाद ही जाने की अनुमति दी जाए, इसे सुनिश्चित करेंगे। 

इसके उपरांत बाराचट्टी प्रखंड में वन विभाग के सहयोग से वन संरक्षण रोजगार सृजन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यशाला में बताया गया कि बेर, बेल, मूंगा इत्यादि के फल, फूल एवं पत्तों से खाने योग्य प्रोडक्ट बनाया जा रहा है, जिसमे बेल का पाउडर, बेर का आचार, मूंगा के पत्ते का पाउडर शामिल हैं। जिलाधिकारी के निदेशानुसार महात्मा बुद्ध के प्रतिमा पर चढ़ने वाले फूल का रीसाइक्लिंग कर इस्तेमाल करने का सुझाव दिया गया था। इसी सुझाव के आलोक में वन संरक्षण रोजगार सृजन द्वारा महात्मा बुद्ध के प्रतिमा पर चढ़ने वाले फूलों का रीसाइकलिंग करते हुए उससे अगरबत्ती बनाया जा रहा है, जिसका देश विदेश में काफी मांग है। साथ ही जिला पदाधिकारी को बताया गया कि महुआ के फूल से कई प्रकार के प्रोडक्ट बनाए जा सकते हैं, जिसमें अभी महुआ तिलकुट बनाया जा रहा है। जिला पदाधिकारी ने इसे एक अच्छी पहल बताते हुए कहा कि जो लोग शराब बनाने के कार्य में संलिप्त हैं, वह इस कार्य को छोड़कर वन संरक्षण रोजगार सृजन कार्यक्रम से जुड़कर अपने जीविकोपार्जन को बेहतर कर सकते हैं। पंचायत आम निर्वाचन, 2021 के दसम एवं अंतिम चरण का मतदान गया जिले के बाराचट्टी एवं मोहनपुर प्रखंड में दिनांक-08 दिसंबर को किया जाएगा। इसी परिप्रेक्ष्य में जिलाधिकारी द्वारा विश्वनाथ सिंह महाविद्यालय, सोभ, बाराचट्टी में हो रहे ईवीएम कमीशनिंग कार्य का जायजा लिया गया। उन्होंने निर्वाची पदाधिकारी को निर्देश दिया कि ईवीएम कमिश्निंग कार्य में जिम्मेदार व्यक्ति को ही लगाएं ताकि ध्यानपूर्वक ईवीएम कमिश्निंग का कार्य संपन्न कराया जा सके। इस अवसर पर जिलाधिकारी के साथ सहायक आयुक्त, उत्पाद, अनुमंडल पदाधिकारी, शेरघाटी, प्रखंड विकास पदाधिकारी, बाराचट्टी, डोभी सहित अन्य संबंधित पदाधिकारी उपस्थित थे।

गया से मनोज कुमार की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News