नल जल और गैस पाइपलाइन बिछाने के लिए एजेंसियों ने खोद डाली 50 करोड़ की सड़कें, हादसों को निमंत्रण दे रहे हैं गड्ढे, बेखबर हैं अधिकारी

नल जल और गैस पाइपलाइन बिछाने के लिए एजेंसियों ने खोद डाली 50 करोड़ की सड़कें, हादसों को निमंत्रण दे रहे हैं गड्ढे, बेखबर हैं अधिकारी

CHHAPRA : नगर निगम क्षेत्र में हर घर नल जल और गैस पाइपलाइन बिछाने के लिए विभिन्न कार्यकारी एजेंसियों  ने 50 करोड़ से अधिक की लागत की नई सड़कें खोद डाली हैं। सड़क पर जगह-जगह खुदे गड्ढे हादसों को निमंत्रण दे रहे हैं। पथ निर्माण विभाग और नगर निगम को इससे मतलब नहीं है।

विकास या विनाश

छपरा शहर के विकास से जुड़ी कोई भी नई योजना अगर शुरू होती है तो सबसे पहले सड़कों को नुकसान पहुंचाया जाता है। इस बार भी ऐसा ही हो रहा है। शहर में घर-घर नल जल योजना और गैस पाइपलाइन पहुंचाने के लिए सड़कों को नुकसान पहुंचाया जा रहा है। अभी तक 50 करोड़ से अधिक की सड़कें खोद गई हैं, लेकिन संबंधित विभाग पथ निर्माण विभाग और नगर निगम को इससे मतलब ही नहीं है। छपरा शहरी क्षेत्र में घर-घर नल का जल और गैस पाइपलाइन पहुंचाने के लिए पाइप बिछाई जा रही है। काफी जगहों में काम भी पूरा हो गया है। निगम क्षेत्र के हर वार्ड से लेकर हर बड़े बाजार तक जगह-जगह सड़कों के किनारे खोदकर पाइपलाइन बिछाई गई, लेकिन पाइपलाइन के लिए खोदी गई सड़कों को मिट्टी भरकर छोड़ दिया गया। कई जगहों पर गड्ढे खोद कर छोड़ दिए गए हैं। मॉनसून आने की संभावना है। ऐसे में खोदे गए गड्ढे हादसों को भी निमंत्रण दे रहे हैं, लेकिन इसे देखने वाला कोई नहीं है।

मरम्मत की शर्त पर एनओसी, फिर भी लापरवाही

विभिन्न कार्यकारी एजेंसियों को पाइपलाइन बिछाने के लिए पथ निर्माण विभाग और नगर निगम ने एनओसी दी है, लेकिन एनओसी में शर्त है कि सड़क खोदने पर उसे वापस उसी स्थिति में लाना है, जैसी वह पहले थी। लेकिन एनओसी की शर्तों को पूरा तक नहीं किया जा रहा है। पथ निर्माण विभाग और नगर निगम की टीम ने कभी टूटी हुई सड़कों का निरीक्षण करना भी जरूरी नहीं समझा।

राहगीर और बाइक सवार परेशान

शहर के हर वार्ड  में नल जल योजना और गैस पाइपलाइन बिछाने के लिए सड़क खोदी जा रही है। सड़क खोद कर मिट्टी वहीं रख दी जा रही है। संकरी सड़क पर मिट्टी रखने की वजह से लोग फिसलकर गिर भी रहे हैं। अभी कुछ दिन पहले गुदरी बाजार, काशी बाजार में भी पाइप बिछाने के लिए खोद कर रखी गई मिट्टी में फिसल कर एक युवक दुर्घटना का शिकार हो गया था। इस घटना से भी विभाग सबक नहीं ले रहा है।

क्या कहते हैं अधिकारी

इस मामले में नगर निगम के आयुक्त  संजय कुमार उपाध्याय से जानकारी मांगी गई तो उनका कहना था कि अगर कहीं सड़क खोद कर छोड़ दी गई है तो तत्काल उसे भरने का आदेश दिया जाएगा। कई बार नोटिस जारी किया गया है यदि अभी भी लापरवाही हो रही है तो कार्रवाई होगी।


Find Us on Facebook

Trending News