प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ लोकसभा चुनाव लड़ने वाले अजय राय बुरे फंसे, स्मृति ईरानी पर बोलना पड़ गया महंगा

प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ लोकसभा चुनाव लड़ने वाले अजय राय बुरे फंसे, स्मृति ईरानी पर बोलना पड़ गया महंगा

DESK. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ वाराणसी से लोकसभा का चुनाव लड़ने वाले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पूर्व विधायक अजय राय के खिलाफ अमेठी से भाजपा सांसद एवं केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के विरुद्ध अभद्र टिप्पणी करने के आरोप में मामला दर्ज किया गया। कांग्रेस नेता राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा की तैयारी के सिलसिले में सोमवार को सोनभद्र पहुंचे कांग्रेस के प्रांतीय अध्यक्ष अजय राय ने केंद्रीय मंत्री व अमेठी की भाजपा सांसद स्मृति ईरानी पर तंज करते हुए कहा था कि स्मृति ईरानी अमेठी आती हैं और लटके-झटके देकर चली जाती हैं। विवाद में आए अपने बयान के बारे में राय ने बताया कि यह शब्द क्षेत्रीय बोली का हिस्सा है और इसमें कोई अश्लीलता नहीं है।

राबर्ट्सगंज पुलिस थाना के एसएचओ बालमुकुंद मिश्रा ने बताया कि राय के खिलाफ यहां दिए गए विवादित बयान के विरुद्ध भाजपा महिला मोर्चा की ज़िलाध्यक्ष पुष्पा सिंह की तहरीर पर राबर्ट्सगंज कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया गया है। यह प्राथमिकी भारतीय दंड विधान की धारा 354—क (यौन उत्पीड़न), 501 (मानहानिकारक बात) और 509 (स्त्री की लज्जा का अनादर) के तहत दर्ज की गई है। क्या राहुल गांधी अमेठी से 2024 का लोकसभा चुनाव लड़ेंगे? इस सवाल के जवाब में अजय राय ने संवाददाताओं से कहा, यह (अमेठी) गांधी परिवार की सीट रही है।

राहुल जी वहां से लोकसभा सांसद रहे हैं तो राजीव (राजीव गांधी) जी और संजय (संजय गांधी) जी भी रहे हैं और उन्होंने इस क्षेत्र की सेवा की है।” राय ने कहा था, अमेठी में आप जितनी फैक्ट्रियां देखते हैं, उनमें से ज्यादातर बंद होने की कगार पर हैं। जगदीशपुर औद्योगिक क्षेत्र में आधी फैक्ट्रियां बंद पड़ी हैं। स्मृति ईरानी यहां आती हैं, लटका-झटका देकर चली जाती हैं। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता आनंद दुबे ने अजय राय द्वारा की गई टिप्पणी पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा था कि कांग्रेस की हमेशा महिला विरोधी रही है। 

वर्ष 2014 और 2019 में वाराणसी में नरेंद्र मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ चुके राय ने कहा, “लटका-झटका शब्द का लोग अक्सर बोलचाल में उपयोग करते हैं। इस शब्द में कोई अश्लीलता नहीं है और यह खासतौर पर पूर्वांचल में आमतौर पर बोला जाता है। भारत जोड़ो यात्रा की सफलता के भय से भाजपा नेता मुद्दा बना रहे हैं।


Find Us on Facebook

Trending News