BIHAR NEWS : असामाजिक तत्वों ने खोला फुलवरिया डैम का फाटक, कई इलाकों में डूब गयी तैयार फसलें

BIHAR NEWS : असामाजिक तत्वों ने खोला फुलवरिया डैम का फाटक, कई इलाकों में डूब गयी तैयार फसलें

NAWADA : जिले रजौली प्रखंड के हरदिया पंचायत के फुलवरिया डैम का फाटक शुक्रवार की सुबह असामाजिक तत्वों के द्वारा खोल दिया गया। जिससे डैम से लगे निचले क्षेत्र के ग्रामीण इलाके में बाढ़ की स्थिति उत्पन्न हो गई है। ग्रामीणों को कुछ समझ में भी नहीं आया और देखते ही देखते पानी की तेज धार ग्रामीण सड़क तक को बहाकर ले कर चली गई। शुक्रवार की सुबह भडरा गांव के ग्रामीण की नींद जैसे ही खुली और अपने घर से बाहर निकले तो देखा कि गांव के चारों तरफ पानी ही पानी है। सब अपने-अपने खेत की तरफ दौड़े तो देखा कि तैयार धान की फसल पानी में तैर रहा है। किसान पानी का रौद्र रूप देखकर छाती पीटने लगे। गांव से निकलने वाली सड़क भी पानी की तेज बहाव में बह गई थी। 

इस संबंध में जब सिंचाई विभाग के अधिकारियों से संपर्क करने की कोशिश की गई तो उनका मोबाइल स्विच ऑफ था। शुक्रवार की दोपहर 2:30 तक विभाग के द्वारा पानी का बहाव बंद नहीं किया गया था। इस संबंध में एसडीओ आदित्य कुमार पीयूष से बात की गई तो उन्होंने कहा कि असामाजिक तत्व के लोगों के खिलाफ थाने में प्राथमिकी दर्ज करने को लेकर आवेदन दिया गया है। उन्होंने कहा की पानी की बहाव को बंद करने के लिए टेक्निकल टीम को गया से बुलाया गया है। टेक्निकल टीम आते ही पानी को बंद कर दिया जाएगा। 

आखिर किसके द्वारा साजिश के तहत इस तरह का कायराना हरकत किया गया है। इसको लेकर क्या सिंचाई विभाग और पुलिस पता लगा सकेगी। यह कह पाना मुश्किल है। देखना यह है कि फुलवरिया डैम में जलस्तर घटने से आखिर किसको फायदा होता है। किसने अपने फायदे के लिए साजिश के तहत डैम का फाटक गुपचुप तरीके से खोल दिया। यह अनाड़ी व्यक्ति का काम नहीं हो सकता है। क्योंकि फुलवरिया डैम का जिस फाटक को खोला गया है व किलो 2 किलो का नहीं हो सकता है बल्कि उसका वजन कई 100 किलो वजन का है। उसके बाद भी आसानी से खोल देना यह सिंचाई विभाग के कार्यशैली पर प्रश्नचिन्ह खड़ा करता है।

नवादा से अमन सिन्हा की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News