सरकारी कर्मियों के ऑफिस आने जाने के समय में अब नहीं चलेगी मनमानी, सरकार ने बना दिया टाइम टेबल

सरकारी कर्मियों के ऑफिस आने जाने के समय में अब नहीं चलेगी मनमानी, सरकार ने बना दिया टाइम टेबल

PATNA : दो दिन पहले राज्य सरकार ने आनेवाले साल के लिए सरकारी कर्मियों के छुट्टी का कैलेंडर जारी किया था। जिसके बाद कर्मियों में बेहद खुशी थी। लेकिन इस खुशी के रंग में भंग भी सरकार ने डाल दी है। राज्य सरकार ने न सिर्फ कर्मियों के ऑफिस में 11 बजे लेट नहीं, और चार के बाद भेंट नहीं वाले फार्मूले पर लगाम लगाते हुए सभी के आने जाने का न सिर्फ टाइम निर्धारित कर दिया है। बल्कि यह भी तय कर दिया है कि वह दोपहर में लंच किस समय करेंगे। सरकार के नए आदेश के बाद उन कर्मियों के लिए परेशानी  बढ़ जाएगी, जो लंच के नाम पर घंटों गायब रहते हैं। 

बायोमैट्रिक से हाजिरी को किया अनिवार्य

कार्यालयों में कर्मी समय पर पहुंचे, इसके लिए सभी कार्यालयों में बायोमैट्रिक हाजिरी को अनिवार्य कर दिया है। इसके अनुसार जिन कार्यालयों या विभागों में सप्ताह में पांच दिन काम करने का प्रावधान है, वहां के कर्मियों को सुबह साढ़े नौ बजे आना होगा। और छह बजे शाम को जाना होगा। वहीं महिलाओं को शाम पांच बजे तक काम करना होगा। इसी तरह जिन कार्यालयों में सप्ताह में छह दिन काम होता है, वहां के कर्मियों को सुबह दस से शाम पांच बजे तक काम करना होगा

यह होगा लंच का समय

सरकार ने कार्यालयों में लंच का समय भी तय कर दिया है। पांच दिन चलनेवाले कार्यालयों में दोपहर एक से दो बजे तक लंच का टाइम होगा। वहीं छह दिन चलनेवाले कार्यालयों में लंच की अवधि दोपहर डेढ़ से दो बजे तक की होगी। इसके साथ ही ठंड के महीनों का भी ख्याल रखते हुए नवंबर से फरवरी तक कार्यालय आने की अवधि सुबह साढ़ दस बजे से होगी। इस संबंध में सामान्य प्रशासन विभाग मे सबी विभाग प्रमुखों के अलावा डीजीप, प्रमंडलीय आयुक्त और सभी जिला पदाधिकारियों को जारी कर दिया है।


Find Us on Facebook

Trending News