हम किसी से कम हैं क्या....! PM मोदी के सपनों की उड़ान पर 8,458 करोड़, नीतीश के सपनों की उड़ान पर करोड़ों खर्च पर आपत्ति कैसा ?

हम किसी से कम हैं क्या....! PM मोदी के सपनों की उड़ान पर 8,458 करोड़, नीतीश के सपनों की उड़ान पर करोड़ों खर्च पर आपत्ति कैसा ?

PATNA: मुख्यमंत्री नीतीश एक नया विमान और एक हेलिकॉप्टर खरीद रहे हैं। जेट विमान की खरीददारी को लेकर मुख्यमंत्री ने पहल शुरू कर दी है। गरीब राज्य बिहार में 12 सीटर विमान खरीदने पर व्यय किये जाने वाले करोड़ों रू पर सवाल उठने लगे हैं। बीजेपी ने जेट विमान खऱीदने पर सीएम नीतीश को कटघरे में खड़ा किया है। जेडीय़ू भला यह कैसे बर्दाश्त कर सकती थी। सत्ताधारी जेडीयू ने नीतीश के सपनों की उड़ान सवाल उठाने वाले बीजेपी नेताओं को आंख दिखाया है।

 नीतीश सरकार खऱीद रही विमान और हेलिकॉप्टर

दरअसल, नीतीश कैबिनेट ने 27 दिसंबर को नया जेट विमान और हेलिकॉप्टर खरीदने का फैसला लिया था। इसके बाद बिहार में राजनीति शुरू हो गई है।  राज्यसभा सदस्य सुशील मोदी ने कहा कि 250 करोड़ का 12-सीटर जेट प्लेन और 100 करोड़ का 10-सीटर हेलीकाप्टर खरीदने का सरकार का फैसला बिहार जैसे गरीब राज्य की जनता के पैसे का खुला दुरुपयोग है। इसका जनता की सेवा से कोई लेना-देना नहीं। मोदी ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार विपक्षी एकता के लिए देश भर में दौरा करने और प्रधानमंत्री बनने का सपना पूरा करने के लिए बिहार के खजाने पर 350 करोड़ से अधिक का बोझ डालने जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि जो जेट विमान खरीदा जाने वाला है, उसे बिहार के केवल चार हवाई अड्डों के रनवे पर उतारा जा सकता है। अब राज्य सरकारें नया विमान या हेलीकाप्टर खरीदने के बजाए इसे किराये पर लेना किफायती समझती हैं। उन्होंने कहा कि बिहार सरकार भी पांच साल से किराये पर ही हेलीकाप्टर ले रही है। वर्ष 2005 में राज्यपाल बूटा सिंह के समय 14.5 करोड़ रुपये में किंग एयर का जो 6-सीटर विमान खरीदा गया था, वह अब भी उड़ान के योग्य ( आपरेशनल) है। उन्होंने कहा कि 1989 में सत्येन्द्र नारायण सिन्हा की सरकार ने 7 करोड़ की लागत से दो हेलीकाप्टर खरीदे थे। इनमें एक हेलीकाप्टर का इंजन बदल कर उड़ान के लायक बनाया जा सकता है। इस पर मात्र 2.5 करोड़ रुपये के खर्च का अनुमान है, लेकिन सरकार विमान-हेलीकाप्टर खरीदने के लिए 350 करोड़ से अधिक खर्च करना चाहती है। 


पीएम मोदी के सपनों की उड़ान के लिए 8,458 करोड़ 

नीतीश के सपनों की उड़ान में बाधक बने सुशील मोदी को भला जेडीयू बर्दाश्त कैसे कर सकती थी. लिहाजा नीतीश कुमार के बाद वाले नेता यानि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने मोर्चा संभाला। ललन सिंह ने धड़ाधड़ दो ट्वीट कर सुशील मोदी के बहाने पीएम मोदी को घेरा। साथ ही यह बताने की कोशिश की है कि पीएम मोदी के उड़ान पर भी हजारों करोड़ रू खर्च किये जा रहे। ललन सिंह ने अपने ट्वीट में लिखा है, '' सुशील जी, आपकी यह प्रतिक्रिया देख कर घोर आश्चर्य हुआ। आपका स्वभाव ऐसा था नहीं, लगता है कि नीतीश कुमार जी ने जो आपलोगों की साजिश और षड्यंत्र के कारण एनडीए का साथ छोड़ दिया उसी कुंठा में आप अनर्गल प्रतिक्रिया दे रहे हैं। कुछ कहने से पहले देश की जर्जर अर्थव्यवस्था का अध्ययन तो कीजिए। प्रधानमंत्री जी के सपनों की उड़ान के लिए ₹ 8,458 Cr खर्च की जा रही है और विदेशी उड़ानों पर ₹ 2021 Cr खर्च की जा चुकी है. इस विषय पर आप चुप क्यों हैं ? विदेशी उड़ानों का रिकॉर्ड तोड़ने वाले पीएम मोदी जी से भी कुछ पूछ लिजिए..!'' 

Find Us on Facebook

Trending News