चौकीदार अश्विनी चौबे के भाषण से विकास का मुद्दा गायब, अब कोर्ट पर निकाल रहे हैं अपनी भड़ास

चौकीदार अश्विनी चौबे के भाषण से विकास का मुद्दा गायब, अब कोर्ट पर निकाल रहे हैं अपनी भड़ास

 न्यूज4नेशन डेस्क- बक्सर से दूसरी बार किस्मत आजमा रहे बीजेपी नेता अश्विनी चौबे अब विरोधियों पर नहीं कोर्ट पर ही बरसने लगे हैं.

बक्सर से लोकसभा उम्मीदवार अश्विनी चौबे सभा कर जनता के बीच खुद की छवि को ठीक कर वोट मांगने की जुगत में जुटे हैं. लेकिन बीजेपी उम्मीदवार अश्विनी चौबे की सभा में विपक्ष से बड़ा मुद्दा उनके लिए अब कोर्ट कचहरी हो गया है. अश्विनी चौबे ने एक सभा के दौरान उन्होंने कोर्ट को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि मैं न्यायालय का सम्मान करता हूं, लेकिन जिस तरीके से न्यायालय में भ्रष्टाचार व्याप्त है, वह किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जा सकता. उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी भ्रष्टाचार की लड़ाई लड़ती है. हमलोग चौकीदार हैं और भ्रष्‍टाचार की लड़ाई लड़ते रहेंगे.

इसी दौरान मंच से भाषण देते हुए चौबे ने प्रशासन व न्‍यायालय को कठघरे में खड़ा कर दिया. खास बात कि इस बार उनके निशाने पर प्रशासन व न्‍यायालय के अलावा मीडिया भी रही. विपक्ष तो उनके निशाने पर पहले से ही है. चौबे ने जिला प्रशासन को भी आड़े हाथों लिया. चौबे ने कहा कि जिला प्रशासन के रवैये से आम जनता में भय का माहौल है. दरअसल, पिछले दिनों अश्विनी कुमार चौबे पर आचार संहिता उल्लंघन का मामला दर्ज होने के बाद वे पहली बार बक्‍सर पहुंचे थे. आपको बता दें कि 30 मार्च को अश्विनी चौबे बक्सर गए थे और आचार संहिता की धज्जियां उड़ाने की वजह से उनपर मामला दर्ज हुआ था. हालांकि अश्विनी चौबे ने 2 अप्रैल को कोर्ट ने अश्विनी चौबे को जमानत दे दी थी.

Find Us on Facebook

Trending News