नियमों को ताक पर रखकर साहब ने ऐसे मनाया विदाई समारोह, ना मास्क ना ही सोशल डिस्टेंसिंग बस गले में माला ही माला

नियमों को ताक पर रखकर साहब ने ऐसे मनाया विदाई समारोह, ना मास्क ना ही सोशल डिस्टेंसिंग बस गले में माला ही माला

Bagha: सूबे में कोरोना का कहर जारी है. सरकार लगातार सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क के सहारे कोरोना से लड़ाई लड़ने का उपदेश दे रही है. कुछ जगहों पर तो खुद डीएम साहेब सड़क पर उतककर फाइन काट रहे हैं और मास्क नहीं पहनने वालों को खरी खोटी सुना रहे हैं. लेकिन बगहा में एक सरकारी साहब है जिनको किसी का डर नहीं है.

बता दें इंस्पेक्टर सह थानाध्यक्ष भगत लाल मंडल बगहा थाना में पदस्थापित थे. साहब की विदाई समारोह में सरकार द्वारा कोरोना महामारी को लेकर जारी गाइडलाइन की जमकर धज्जियां उड़ाई गयी है.


साहब के विदाई समारोह में मौजूद लोगों द्वारा न कोई मास्क लगाया गया था न ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया गया है. वैसे साहब के बारे में कहा जाता है कि उनसे इलाके के लुच्चे खौफ खाते थे. साहब गले में माला पहने मुस्कुरा रहे हैं इन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता कानून टूट रहा या क्या हो रहा है. 

सुशासन बाबू की सरकार में ऐसे हनक वाले साहब है जिनको सरकार और पुलिस मुख्यालय के आदेशों का कोई फर्क नहीं पड़ता. आदेश की ऐसी की तैसी. और तो छोड़िए साहब को सरकार और पुलिस मुख्यालय के नियमों का धज्जियां उड़ाने के बाद पकड़ी दयाल थानाध्यक्ष के रूप में पदस्थापित भी कर दिया गया.

Find Us on Facebook

Trending News