40 साल में पहली बार रिमांड पर बाहुबली विधायक, कैसा होगा सुलूक ?, क्या होंगे सवाल ?

40 साल में पहली बार रिमांड पर बाहुबली विधायक, कैसा होगा सुलूक ?, क्या होंगे सवाल ?

NEWS4NATION DESK : 40 साल में पहली बार बाहुबली विधायक रिमांड पर कई कठिन सवालों का सामना करना पड़ेगा। एके-47 और हैंड ग्रेनेड के बरामदगी मामले में बेउर जेल में बंद बाहुबली विधायक अनंत सिंह को पुलिस ने रिमांड पर ले लिया। 

गौरतलब है कि 1979 से लेकर आज तक कभी भी अनंत सिंह को रिमांड पर नहीं दिया गया था। तकरीबन 55 केस के आरोपी अनंत सिंह पर पहला केस 1979 में चोरी का दर्ज किया गया था। उसके बाद मुकदमों की फेहरिस्त लंबी हो गई। साल 1992 में तो अनंत सिंह पर 9 रिकॉर्ड केस दर्ज किए गए।

फिर केस के दर्ज होने का रफ्तार रुकने का नाम नहीं लिया। अबतक 55 केस में अनन्त सिंह को आरोपी बनाया गया है।

एक बड़ा सवाल यह है कि अनन्त सिंह से सवाल क्या किया जाएगा? सम्भवतः यह सबको पता है….एके 47 और हैंडग्रेनेड कहां से आया?...किसने लाया?... कितने अत्यधुनिक हथियार हैं ?... लाइट मशीनगन कहां है?.. दिल्ली कैसे पहुंचे?...पुलिस में मुखबिर कौन है आपका?... फरारी के दौरान कहां रहे?...किसने संरक्षण दिया? इत्यादि

लेकिन इससे भी बड़ा सवाल अनन्त सिंह के साथ सुलूक कैसा होगा ?

जाहिर सी बात है बाहुबली विधायक अनन्त सिंह को इसी का डर है कि सत्ता के इशारे पर काम कर रही पुलिस उनके साथ सुलूक अच्छा नहीं करेगी। यही वजह था कि अनन्त सिंह के वकील के द्वारा अदालत के सामने   रिमांड के दौरान  पूछताछ के दौरान वीडियो बनाने की बात रखी गयी थी,जिसे कोर्ट ने अस्वीकार कर दिया था।

पहली बार पुलिसिया खौफ से अनन्त सिंह ने दिल्ली में सरेंडर करने का मन बनाया था,इसका सीधा मतलब था कि अनन्त किसी कीमत पर बिहार पुलिस के हाथों अपनी गिरफ्तारी नहीं होने देना चाहते थे। फरारी के दौरान जारी किए गए वीडियो में भी अनन्त सिंह यह बार-बार कह रहे थे कि उन्हें पुलिस पर भरोसा नहीं है।

Find Us on Facebook

Trending News