बैंक लूट और हत्या आरोपी दो सगे भाई पुलिस मुठभेड़ में ढेर, पटना के कोर्ट से पुलिस को चकमा देकर हुए थे फरार

बैंक लूट और हत्या आरोपी दो सगे भाई पुलिस मुठभेड़ में ढेर, पटना के कोर्ट से पुलिस को चकमा देकर हुए थे फरार

पटना. बिहार के पटना जिले के बाढ़ कोर्ट में पेशी के दौरान पुलिस की गिरफ्त से फरार हुए बैंक लूट के दो आरोपियों की पुलिस मुठभेड़ में मौत हो गई है. दोनों बिहार से भागकर यूपी गए थे और वहीं वाराणसी रिंग रोड पर पुलिस ने मुठभेड़ में मार गिराया है. सोमवार सुबह हुई इस घटना में मरने वाले दोनों आरोपी सगे भाई हैं. दोनों बाढ़ कोर्ट परिसर स्थित हाजत से पिछले 7 सितंबर 2022 को फरार हो गए थे. मार्च 2017 में पटना के बेलछी थाना क्षेत्र में एक बैंक से दिनदहाड़े 60 लाख रुपए लुटने के मामले में पुलिस समस्तीपुर निवासी तीन भाइयों को गिरफ्तार किया था. उस लूटकांड में बैंक के गार्ड योगेश्वर पासवान, सुरेश सिंह और चालक अजित यादव की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. इन तीनों पर पहले एक दारोगा, एक एएसआई की भी हत्या करने का आरोप था.

समस्तीपुर जिले के मोहिउद्दीनगर थाना क्षेत्र के आनंदगोलवा के रहने वाले तीन भाइयों ललन उर्फ बउआ, मनीष और रजनीश ने बैंक लूट और हत्याकांड को अंजाम दिया था. उस मामले में पटना के तत्कालीन एसपी मनु महराज ने तीनों की गिरफ्तारी आनंदगोलवा से ही की थी. पुलिस दोनों भाई को पटना ले गयी, वहीं तीसरे को स्थानीय पुलिस ने छोड़ दिया था। उस मामले में तत्कालिक मोहिउद्दीनगर थानाध्यक्ष असगर इमाम को निलंबित भी किया गया था. एक साल बाद रजनीश की गिरफ्तारी सिवना से हुयी थी.

7 सितंबर 2022 को तीनों को बाढ़ उपकारा से न्यायालय में पेशी के लिए लाया गया था. मामले की सुनवाई एडीजे-05 रवि रंजन मिश्रा के न्यायालय में होनी थी. पेशी के पहले ही तीनों बदमाश हाजत से सटे बाथरूम की दीवार को तोड़कर करीब तीन बजे फरार हो गए थे. इस मामले में पुलिस की काफी किरकिरी भी हुई. हालांकि तीनों भाई बिहार पुलिस की गिरफ्त में नहीं आए. इस बीच उनकी गिरफ्तारी के लिए अलग अलग जगहों पर छापेमरी चलती रही. 

करीब ढाई महीने बाद अब यूपी पुलिस ने तीन में से दो भाइयों को मुठभेड़ में ढेर कर दिया है. मनीष और रजनीश के दोनों के पहचान की पुष्टि पटना पुलिस ने की. वाराणसी के बड़ागांव पुलिस ने तीनों भाइयों को सरेंडर करने के लिए कहा लेकिन वे पुलिस पर गोली चलाने लगे. इसके बाद पुलिस से हुई मुठभेड़ में मनीष और रजनीश मारे गए जबकि ललन फरार होने में सफल रहा. कहा जा रहा है कि दोनों ओर से कई राउंड गोलियां चली. 


Find Us on Facebook

Trending News