CMG की बैठक से पहले नीतीश के मंत्री बोले- कोरोना के साथ लोगों को जीना होगा, कब तक लगाते रहेंगे लॉकडाउन

CMG की बैठक से पहले नीतीश के मंत्री बोले- कोरोना के साथ लोगों को जीना होगा, कब तक लगाते रहेंगे लॉकडाउन

पटना. बिहार में कोरोना संक्रमण बड़े स्तर पर पैर पसारना शुरू कर दिया है. प्रदेश में प्रत्येक दिन 350 से ज्यादा कोरोना पॉजिटिव केस सामने आ रहे हैं. सोमवार को बिहार के स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी किये गये आकड़ों के अनुसार बिहार में सोमवार को 344 कोरोना संक्रमित पाये गये थे. वहीं रविवार को 352 कोरोना मरीज मिले थे. इसको लेकर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लोगों को सतर्क होने को कहा है. बढ़ते संक्रमण को लेकर सीएम नीतीश क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक करेंगे. वहीं इस बैठक से पहले ही नीतीश सरकार के मंत्री जीवेश मिश्रा ने कहा है कि लोगों को कोरोना के साथ जीने की आदत डालनी होगी. कब तक लॉकडाउन लगाया जाता रहेगा.

दिल्‍ली में मीडिया से बात करते हुए मंत्री ने कहा कि जिस प्रकार से कोरोना रूप बदल रहा है. कभी कोरोना, कभी डेल्‍टा तो कभी ओमीक्रॉन आ रहा है. पता नहीं यह कब रुकेगा. ऐसे में बार-बार लॉकडाउन नहीं लगाया जा सकता. तो ऐसे में अब इसके साथ जीने की आदत डालनी होगी. आखिर कितनी बार लाकडाउन लगाते रहेंगे. इससे रोजी-रोटी समस्‍या हो रही है. अब देश और राज्‍य की अर्थव्‍यवस्‍था की रफ्तार को रोक तो नहीं सकते. पूर्व सीएम जीतन राम मांझी के सुझाव पर उन्‍होंने कहा कि यह उनका अपना विचार है. सीएम नीतीश कुमार इस मामले में स्‍वयं काफी सजग हैं. बिहार के हित में जो उचित निर्णय होगा, वह लिया जाएगा. 

मालूम हो कि बिहार में कोरोना के एक्टिव केस 1400 के आसपास हैं. पटना में सबसे ज्‍यादा संक्रमित मिले हैं. लोगों से शारीरिक दूरी अपनाने और मास्‍क पहनने की अपील की जा रही है. लोगों को फिर से आशंका सताने लगी है कि जिस तरह केस बढ़ रहे हैं, कहीं फिर से लाकडाउन न लगा दिया जाए. इससे खासकर प्राइवेट संस्‍थानों में काम करने वालों को चिंता सता रही है.

Find Us on Facebook

Trending News