बेगूसराय में कन्हैया पर लगा बड़ा आरोप, बोनट पर खड़ा होकर कहा- मारो जो झंडा दिखा रहा

PATNA: मैं भीड़ में खड़ा था, मैंने और कुछ नहीं देखा बस देखा कन्हैया बोनट पर खड़ा हुआ और बोला जो भी काला झंडा दिखा रहा उसको मारो. ये कहना है बेगूसराय के एक शख्स का जिसका सिर कन्हैया के समर्थकों ने फोड़ डाला हैं. उनका गुनाह बस इतना था कि वो भीड़ में खड़ा था.

दरअसल बेगूसराय लोकसभा सीट पर देशभर की नजर है. एक तरफ JNU वाले कन्हैया हैं दूसरी तरफ गिरिराज सिंह. यदि पिछले चुनाव की तुलना करें तो इस बार गिरिराज सिंह शांत और सहज ही दिखे. लेकिन दूसरी तरफ कन्हैया लगातार सुर्खियों में हैं. कुछ दिन पहले बेगूसराय क्षेत्र में जब कन्हैया रोड शो कर रहे थे तब उनसे एक लड़के ने सवाल किया जिसपर कन्हैया गरम हो गए थे. आज यानि रविवार को एक बार फिर से कन्हैया कुमार पर दो युवकों को पिटवाने का आरोप लगा है. जो कन्हैया बार बार कहते हैं कि लोकतंत्र  में सवाल पूछना चाहिए. विरोध होना चाहिए लेकिन चुनाव में यदि उनका कोई विरोध कर रहा तो कन्हैया थोड़े असहज हो जाते हैं. उनके समर्थक उग्र हो जाते है और गुंडागर्दी पर उतर जाते हैं. क्या कन्हैया के कथनी और करनी में फर्क है ? या फिर कन्हैया अपने समर्थकों को काबू कर पाने में असक्षम हैं ?.

क्या है पूरा मामला

दरअसल गढ़पुरा थाना क्षेत्र के सुजानपुर कोरैय गांव में वोट मांगने आए थे. तभी उन्हे विरोध का सामना करना पड़ा. कन्हैया कुमार के रोड शो के दौरान ग्रामीण युवकों के ने कन्हैया को काला झंडा दिखाया. इसके बाद कन्हैया के समर्थक इतने उग्र हो गए कि झंडा दिखा रहे युवकों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा. युवकों ने घर में घुसकर अपनी जान बचाने की कोशिश की लेकिन कन्हैया के समर्थक वहां भी पहुंच गए और खूब पिटाई की. बाद में मौके पर पहुंचकर पुलिस ने किसी तरह मामले को शांत कराया लेकिन बड़ा सवाल तो ये है कि जिस कन्हैया को देश भर में पहचान इसी विरोध के कारण मिली. आज जब कोई उनका विरोध कर रहा है तो उनके समर्थक दौड़ा दौड़ा कर पीट रहे है.



Find Us on Facebook

Trending News