बेगूसराय में खूब गरजे कन्हैया, कहा- राष्ट्रकवि दिनकर की घरती कभी देशद्रोही पैदा नहीं कर सकता

BEGUSARAI: लोकसभा चुनाव में बेगूसराय से ताल ठोक रहे कन्हैया ने कहा कि आज टीवी चैनलों पर खूब बेगूसराय बेगूसराय हो रहा है. जब पूरे देश में कन्हैया को लेकर शोर था तब भी मेरे बेगूसराय के लोगों को भरोसा था कि बेगूसराय राष्ट्रकवि की घरती है यहां देशद्रोही पैदा नहीं हो सकता है.

आज यानि रविवार को कन्हैया कुमार ने बेगूसराय के मीरअलीपुर, शिवनगर, शाहपुर, भवानंदपुर, ताजपुर, विष्णुपुर, सैदपुर, भगतपुर, अशर्फी, बरियारपुर आदि में रोड शो के जरिए जनता के सामने अपनी बात रखी. उन्होंने भाजपा पर दलित विरोधी होने का आरोप लगाते हुए कहा कि यह संयोग नहीं है कि जिन राज्यों में भाजपा की या भाजपा के गठबंधन की सरकार है वहां दलित उत्पीड़न की सबसे अधिक घटनाएं हुई हैं. दलित उत्पीड़न के मामलों में बिहार तीसरे नंबर पर है. शिक्षा, रोजगार आदि की अनदेखी करने वाली मोदी सरकार ने सारा ध्यान सरकारी कंपनियों को बर्बाद करके बड़े कारोबारी घरानों की तिजोरी भरने पर लगा दिया है. सरकार का जितना शिक्षा बजट है उससे कई गुना ज्यादा पैसा रईस परिवार अपने बच्चों को विदेश में पढ़ाने पर खर्च कर देते हैं.

कन्हैया ने कहा कि कोई भी देश तभी आगे बढ़ सकता है जब सरकार शिक्षा और स्वास्थ्य जैसे महत्वपूर्ण क्षेत्रों पर ध्यान देने के साथ-साथ नागरिकता और लोकतंत्र के मूल्यों की रक्षा करने के लिए हर संभव कदम उठाए. उन्होंने आगे कहा कि आज देश में ऐसी सरकार है जो एक तरफ तो सांप्रदायिकता फैलाने वाली बातें कहने वालों को खुली छूट देती है तो दूसरी तरफ़ गांधी के आदर्शों पर चलने की बात कहती है। नफरत के माहौल में न तो आर्थिक प्रगति हो सकती है न ही सामाजिक प्रगति. 

Find Us on Facebook

Trending News