भारत बंद का बिहार में नहीं दिख रहा असर, 20 जिलों में इंटरनेट सेवा बंद, ‘अग्निपथ’ उपद्रव मामले में अब तक 804 गिरफ्तार

भारत बंद का बिहार में नहीं दिख रहा असर, 20 जिलों में इंटरनेट सेवा बंद, ‘अग्निपथ’ उपद्रव मामले में अब तक 804 गिरफ्तार

DESK. भारत बंद की घोषणा के बाद भी सोमवार को बिहार के अधिकांश जिलों में जन जीवन सामान्य बना हुआ है. एहतियात के तौर पर पुलिस प्रशासन मुस्तैद है और राजधानी पटना सहित सभी जिलों अतिरिक्त सतर्कता बरती जा रही है. विभिन्न संघठनों की ओर से घोषित भारत बंद का सुबह के करीब 11 बजे तक न तो पटना और ना ही अन्य जिलों में किसी प्रकार का असर दिख रहा है. सडकों पर वाहनों की आवाजाही सामान्य बनी हुई है जबकि सरकारी और निजी कार्यालय सहित स्कूल कॉलेज भी सामान्य दिनों के तरह खुले हुए हैं. 

अग्निपथ के खिलाफ सोमवार को कोई खास विरोध प्रदर्शन ही नहीं दिख रहा है. हालांकि हंगामे और अफवाह की आशंका के बीच आज यानी 20 जून को बिहार के 20 जिलों में इंटरनेट सेवा बंद कर दी गयी है. यानी इन 20 जिलों में सोमवार रात 12 बजे तक इंटरनेट काम नहीं करेगा. 

बिहार के कैमूर, भोजपुर, औरंगाबाद, रोहतास, बक्सर, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्वी चंपारण, समस्तीपुर, लखीसराय, बेगूसराय, वैशाली, सारण, मुजफ्फरपुर, दरभंगा, गया, मधुबनी, जहानाबाद, खगड़िया और शेखपुरा में आज इंटरनेट सेवा बंद रहेगी. मालूम हो कि पहले बिहार के केवल 15 जिलों में इंटरनेट सेवा बंद की गयी थी. लेकिन शांति व्यवस्था बनाये रखने के लिए 5 और जिलों में इंटरनेट सेवा पर रोक लगाया गया है. साथ ही 15 जिलों में पहले से लगी रोक को अगले 24 घंटे के लिए और बढ़ा दिया गया है. यानी अब सोमवार तक रात 12 बजे तक 20 जिलों में इंटरनेट सेवा पर रोक लगी रहेगी.

राज्य में भारी हिंसा और उपद्रव मचाने के मामले में पुलिस लगातार कार्रवाई कर रही है. अब तक कुल 145 एफआईआर दर्ज की गयी. जबकि 804 उपद्रवियों को गिरफ्तार किया गया है. वहीं सोमवार को प्रमुख शहरों और संवेदनशील इलाकों में पुलिस की गश्ती बढ़ा दी गई है. असामाजिक तत्वों पर पुलिस की कार्रवाई हुई है. 


Find Us on Facebook

Trending News