भारत बंदः वामपंथी दल, कांग्रेस, किसान मोर्चा का संयुक्त रूप से जोरदार प्रदर्शन, जहानाबाद में रेल रोककर नारेबाजी

भारत बंदः वामपंथी दल, कांग्रेस, किसान मोर्चा का संयुक्त रूप से जोरदार प्रदर्शन, जहानाबाद में रेल रोककर नारेबाजी

NAWADA/JAHANABAD: विपक्षी दलों और किसान मोर्चा के आह्वान पर 27 सितंबर को भारत बंद का आयोजन किया गया है। इस मौके पर सूबे के जिलों में सुबह 6 बजे से ही प्रदर्शनकारी सड़कों पर उतर गए और हल्ला-हंगामा शुरू कर दिया। नवादा के सड़कों पर उतरे वामपंथी दल पूरी तरह सड़क जाम सरकार के विरुद्ध जमकर नारेबाजी की।

जिले के प्रजातंत्र चौक पर संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर अखिल भारतीय किसान संघ सुबह से ही रोड पर उतर कर सड़क जाम कर केंद्र सरकार के विरुद्ध जमकर नारेबाजी कर रहे हैं। माले नेता भोलाराम यह भगवा के सावित्री देवी सीपीआई नेता नरेश चंद्र शर्मा आदि कई नेताओं ने जिले के मुख्य चौराहे को जाम कर दिया है। नेताओं ने कहा कि हम लोगों की मांग को किसानों की अनदेखी करती है। करीब एक साल से कृषि कानून को लेकर किसान सड़क पर हैं। आंदोलन कर रहे हैं। लेकिन यह गूंगी सरकार सुनने की नाम नहीं ले रही है। उन्होंने कहा कि अगर सरकार इस कानून को वापस नहीं लेती है तो इससे भी बड़ा आंदोलन होगा। सरकार को ईंट के जवाब पत्थर से दिया जाएगा।

वहीं नवादा के अलावा जहानाबाद में भी बंद समर्थक पूरे जोश में नजर आए। वहां समर्थक रेलवे स्टेशन के पास पहुंच गए और पटना गया रेलखंड पर पटना-गया मेमू सवारी गाड़ी को रोक दिया। इस दौरान उन्होनें केंद्र सरकार के विरोध में जमकर नारेबाजी की। वहीं राजद और भाकपा माले के कार्यकर्ता सड़कों पर घूम-घूमकर बंद को सफल बनाने में जुटे हुए हैं। 


Find Us on Facebook

Trending News