BIG BREAKING : बिहार सरकार के पूर्व शिक्षा मंत्री व विधायक मेवालाल चौधरी की कोरोना से हुई मौत,राजनीतिक गलियारे में हड़कम्प

BIG BREAKING : बिहार सरकार के पूर्व शिक्षा मंत्री व विधायक मेवालाल चौधरी की कोरोना से हुई मौत,राजनीतिक गलियारे में हड़कम्प

PATNA : जेडीयू के तारापुर से विधायक बिहार सरकार के पूर्व शिक्षा मंत्री मेवालाल चौधरी का कोरोना से संक्रमित हो चुके थे, सांस लेने में उन्हें समस्या हो रही थी । जिसके बाद उन्हें पारस अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां आज सुबह 4:30 पर उन्होंने अंतिम सांस ली। वह 68 साल के थे। उनका जन्म 4 जनवरी 1953 को मुंगेर में हुआ था। उनके निधन से राजनीतिक गलियारों में शोक की लहर दौड़ गई है।

हाल में शिक्षा मंत्री बनने के कारण रहे विवादों में  

तारापुर से विधायक मेवालाल चौधरी को 17वें विधानसभा में नीतीश सरकार ने बिहार की शिक्षा मंत्री की जिम्मेदारी सौंपी थी। पिछले साल उन्होंने 16 नवंबर को मंत्री पद की शपथ ली थी। लेकिन, उनके खिलाफ पूर्व में विश्वविद्यालय में नियुक्ति घोटाले तथा पत्नी की हत्या के मामले में जांच चर रहा था, जिसके कारण विपक्ष ने उनके शिक्षा मंत्री बनाए जाने का पूरजोर विरोध किया था। आखिरकार विरोध के कारण मंत्री बनने के सिर्फ 72 घंटे की अवधि में ही उन्हें अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा था।

मुंगेर के कद्दावर नेताओं में होती है गिनती

बिहार के पूर्व शिक्षा मंत्री मेवालाल चौधरी की गिनती मुंगेर के कद्दावर नेताओं में की जाती है। साथ ही जदयू में भी उन्हें बड़े नेताओं में माना जाता है। लेकिन विधानसभा चुनाव जीतने के बाद उन्हें काम से ज्यादा पूर्व में किए गए घोटालों के कारण चर्चा में रहे हैं। मेवालाल चौधरी पर सहायक प्राध्यापक और जूनियर वैज्ञानिकों की नियुक्ति में अनियमितता बरतने के आरोप हैं. 

मेवालाल चौधरी सबौर (भागलपुर) स्थित बिहार कृषि विश्वविद्यालय के साल 2010-2015 तक वाइस चांसलर रहे. नियुक्ति की अनियमितता को लेकर उन पर सबौर थाने में एफ़आईआर दर्ज है और फ़िलहाल वो ज़मानत पर हैं. साथ ही विधायक पत्नी नीता चौधरी की संदिग्ध मौत  को लेकर मेवालाल चौधरी के खिलाफ जांच चल रही है। बताया जा रहा है कि पारिवारिक विवाद में उन्होंने पत्नी की हत्या कर दी है। नीता चौधरी की 2019 में घर में गैस रिसाव से मौत हो गई थी.

Find Us on Facebook

Trending News