'नीतीश' को लेकर 'सम्राट' का बड़ा खुलासा, CM बनने के लिए 'लड़के' ने हमारे पिता का पकड़ा था पैर, फिर 1998 में पीठ में घोंप दिया छुरा

'नीतीश' को लेकर 'सम्राट' का बड़ा खुलासा, CM बनने के लिए 'लड़के' ने हमारे पिता का पकड़ा था पैर, फिर 1998 में पीठ में घोंप दिया छुरा

PATNA: बिहार की राजनीति में नीतीश कुमार और सम्राट चौधरी आमने-सामने आ गये हैं. मुख्यमंत्री ने आज बीजेपी नेता सम्राट चौधरी को लड़का कहकर मजाक उड़ाया। इसके बाद विधान परिषद में नेता प्रतिपक्ष सम्राट चौधरी ने सीएम नीतीश की भी जमकर खिल्ली उड़ाई है। उन्होंने भी नीतीश कुमार को लड़का कहकर संबोधित किया है। सम्राट ने खुलासा किया कि नीतीश कुमार ने मुख्यमंत्री कैंडिडेट बनने के लिए हमारे पिता शकुनी चौधरी का पैर पकड़ा था.

नीतीश ने हमारे पिता का पकड़ा था पैर तब बने थे सीएम कैंडिडेट  

 सीएम नीतीश के बयान के बाद सम्राट चौधरी ने कड़ा प्रतिकार किया है। मीडिया से बातचीत करते हुए सम्राट चौधरी ने कहा कि नीतीश कुमार अपने कैरेक्टर के बारे में क्यों नहीं बताते? वे सात दफे पार्टी बदले हैं. सम्राट चौधरी ने नीतीश कुमार को भी लड़का कहकर संबोधित किया । कहा कि कुछ लड़के राजनीति में आए और जयप्रकाश के सिद्धांत को 2 साल भी नहीं माना. कर्पूरी ठाकुर जिन्होंने 1977 में बिहार में सरकार बनाई, उनकी विचारधारा पर भी एक लड़का उनके साथ खड़ा नहीं हुआ. 1977 का चुनाव वह लड़का हारा. जनता पार्टी से वह लड़का 1980 का चुनाव हारा. जनता दल सेकुलर चरण सिंह की पार्टी से वह लड़का 1985 में पहली बार विधायक बना. फिर जनता दल से 1989 में सांसद बना. 1991 में सांसद बना, फिर 1996 में पहली बार वह लड़का समता पार्टी के टिकट पर सांसद बना. जिस लड़के ने अपनी जीवन काल में (वैसे अब तो बूढ़े हो गए होंगे) वह लड़का 7 बार पार्टी बदल चुका है. सम्राट चौधरी ने नीतीश कुमार पर हमला बोलते हुए कहा कि 7 बार पार्टी बदलने वाला नेता या वह लड़का बिहार की राजनीति में कितने गठबंधन और कितने नेताओं की राजनीतिक हत्या की होगी आप सोच सकते हैं. 1994 में जॉर्ज साहब के नेतृत्व में पार्टी का टूटना और मेरे पिताजी के कहने पर समता पार्टी का गठन हुआ था। मेरे पिताजी से 20 साल छोटे हैं इसलिए हम लड़का कह रहे हैं. हम से 20 साल बड़े हो सकते हैं, लेकिन मेरे पिताजी से 20 साल छोटे हैं. इन्होंने गोड पकड़ा था हमारे पिता शकुनी चौधरी की। पैर पकड़कर कहा था कि हम को मुख्यमंत्री घोषित करिए, तभी हम पार्टी के अंदर आएंगे.समता पार्टी में नीतीश कुमार तब आए जब इन्होंने कमिटमेंट करा लिया है कि हमें बिहार का मुख्यमंत्री घोषित करना होगा.

सात पार्टी छोड़ कर बैठे हैं नीतीश 

बीजेपी नेता सम्राट चौधरी ने कहा कि नीतीश कुमार सात पार्टी को छोड़ कर बैठे हैं. नीतीश कुमार अपने कैरेक्टर को नहीं बता रहे हैं कि हमने कितनी पार्टी बदली है. नीतीश कुमार ने बिहार का पॉलिटिकल डीएनए खराब कर दिया है. मेरी राजनीतिक पैदाइश 1995 की है.राजद वाले बोलते होंगे कि सम्राट चौधरी की उत्पत्ति राजद से हुई है. उन्हें यह गलतफहमी में नहीं रहनी चाहिए. मेरी उत्पत्ति तो समता पार्टी के निर्माण से हुई.1995 के चुनाव में लालू प्रसाद के पुलिसिया गुंडे ने मेरे ऊपर लाठी चलाई थी. हम पर और हमारे परिवार पर पुलिसिया जुल्म ढाया गया था. हम 88 दिनों तक जेल में रहे थे. 

नीतीश कुमार ने पहली दफे 1998 में धोखा दिया 

बिहार विधानपरिषद में नेता प्रतिपक्ष सम्राट ने मुख्यमंत्री पर हमला बोलते हुए कहा कि नीतीश कुमार ने कभी संघर्ष नहीं किया. जो आज मुख्यमंत्री बने हुए हैं उन्होंने कभी संघर्ष नहीं किया है. अब वह लड़का बूढ़ा हो चुका है. नीतीश कुमार ने पहली दफे 1998 में हमारे परिवार के पीठ में राजनीतिक छुरा घोंपा था। जब 1998 में अटल जी की सरकार बनी थी तो केंद्र में जार्ज साहब और शकुनी चौधरी को मंत्री बनना था। नीतीश कुमार को बिहार में सीएम कैंडिडेट बनना था. नीतीश कुमार ने हमारे परिवार के साथ तब धोखा किया था। 


Find Us on Facebook

Trending News