पुलिस की बड़ी कार्रवाई, शहर के रिहायशी इलाके में बने गोदाम 327 कार्टन कफ सिरप बरामद, पांच कारोबारी भी गिरफ्तार

पुलिस की बड़ी कार्रवाई, शहर के रिहायशी इलाके में बने गोदाम 327 कार्टन कफ सिरप बरामद, पांच कारोबारी भी गिरफ्तार

BHAGALPUR : भागलपुर में नशा कारोबारियों की अब खैर नहीं है,नए पुलिस कप्तान के आते ही जिले के तमाम पुलिस आधिकारी एक्शन आ गए हैं। दरअसल सीनियर एसपी आनंद कुमार के निर्देश पर पुलिस की टीम लगातार छापेमारी कर नशे के बड़े नेटवर्क का उद्भेदन कर दिया है। पुलिस सरकार के नशा मुक्ति अभियान को सफल बनाने को लेकर बीती रात से ही नशे के धंधेबाजों के ठिकाने पर दबिश दी और भारी मात्रा में नशीली कफ सिरप और दवाईयां बरामद कर पांच मुख्य कारोबारियों को गिरफ्तार कर लिया है। एसएसपी आनंद कुमार ने पूरे मामले की जानकारी प्रेस कांफ्रेंस कर दी।

 मामले को लेकर एसएसपी ने बताया कि डीएसपी शहर में आए दिन नशा कारबार हो रहे बढ़ोतरी को देखते हुऐ उनके निर्देश पर डीएसपी सदर अजय कुमार चौधरी के नेतृत्व में  विशेष टीम का गठन किया गया, और अलग अलग थाना क्षेत्रों में छापेमारी की गई जहां से सैंकड़ों की संख्या में नशीली कफ सिरप और दवाइयां पुलिस ने बरामद किया। उक्त मामले में पुलिस को विशेष टीम में इशाकचक इंस्पेक्टर अशोक कुमार, कोतवाली इंस्पेक्टर जवाहर प्रशाद यादव, तिलकामांझी थाना प्रभारी राज रतन, तातारपुर प्रभारी पूर्णेंदु कुमार शामिल थे। टीम ने तातारपुर के गोलाघाट स्थित एक गोदाम छापेमारी की जहां भंडारण किए 327 कार्टन कोडीन कफ सिरप को बरामद किया। 

वहीं तिलकामांझी स्तिथ एक गंजी की फैक्टरी में छापेमारी के बाद पुलिस 1.63 हजार नशीली दवाइयां बरामद हुई। उक्त मामले में पुलिस ने पांच मुख्य कारोबारियों को गिरफ्तार किया है। जिसमें मुंगेर जिले के गौरव केशन, गोलाघाट के कुख्यात अपराधी पप्पू सोनार, उसके साथी पप्पू मिश्र, राजकुमार सिंह, मुकेश कुमार को गिरफ्तार किया है। एसएसपी के मुताबिक सभी अभियुक्तों का पुराना आपराधिक इतिहास रहा है। जिसमें अमित शाह उर्फ पप्पू सोनार पर हत्या लूट, अपहरण जैसे 26 संगीन मामले दर्ज हैं। वहीं इस छापेमारी के बाद पुलिस इसे अपनी बड़ी उपलब्धि बता रही है, जबकि शहर के बीचों बीच रियासी इलाके में नशे का इतना बड़ा जखीरा अपने में एक बड़ा सवाल है।

Find Us on Facebook

Trending News