पंजाब विधानसभा चुनाव से पहले चन्नी सरकार का बड़ा सियासी दांव, बिजली दरों में तीन रुपये प्रति यूनिट की कटौती का किया ऐलान

पंजाब विधानसभा चुनाव से पहले चन्नी सरकार का बड़ा सियासी दांव, बिजली दरों में तीन रुपये प्रति यूनिट की कटौती का किया ऐलान

Desk. अगले साल होने वाले पंजाब विधानसभा चुनाव को लेकर सियासी दल तैयारियों में जुट गयी है. इस बीच चुनाव का ध्यान में रखते हुए पंजाब सरकार ने सोमवार को बड़ा ऐलान किया. कैबिनेट की मीटिंग के बाद मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने पंजाब में बिजली दरों में तीन रुपये प्रति यूनिट की कटौती की घोषणा की. नई दरें सोमवार से ही लागू हो जाएंगी.

सीएम चन्नी ने बताया कि पंजाब में 72 लाख उपभोक्ता हैं, जिनमें से 95 फीसदी उपभोक्ता इस स्कीम से लाभान्वित होंगे. सीएम ने दावा किया कि देश में यह सबसे कम दरें होंगी. सोमवार को कैबिनेट की बैठक के बाद चन्नी सरकार चुनावी मोड में नजर आई. बिजली दरों में कटौती के बाद चन्नी ने राज्य सरकार के कर्मचारियों के लिए महंगाई भत्ते (डीए) में 11 प्रतिशत की वृद्धि की घोषणा की. इसके लिए 440 करोड़ रुपये आवंटित किए जाएंगे.

उल्लेखनीय है कि पावरकॉम की ओर से बिजली समझौता रद्द करने के लिए जीवीके को शुरुआती तौर पर डिफाल्ट नोटिस जारी किया जा चुका है. इस नोटिस का आधार उच्च बिजली लागतें और निर्धारित मापदंड के विपरीत खराब कारगुजारी, जीवीके से बिजली खरीद के एक साल के समय के दौरान केवल 25 से 30 प्रतिशत तक ही बिजली उपलब्धता को आधार बनाया गया है, वहीं बीते वर्ष के लिए 7.52 रुपये प्रति यूनिट के हिसाब से बिजली की दरें बढ़ाई गई हैं.

Find Us on Facebook

Trending News