बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष केदारनाथ पांडे ने राजेन्द्र कॉलेज के शिक्षकों का निलंबन को कहा अफ़सोसजनक

बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष केदारनाथ पांडे ने राजेन्द्र कॉलेज के शिक्षकों का निलंबन को कहा अफ़सोसजनक

छपरा : बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष केदारनाथ पांडे ने एक बयान में राजेंद्र कॉलेज छपरा के प्राचार्य प्रोफेसर प्रमेंद्र रंजन सहित 16 प्राध्यापकों   के निलंबन की कार्रवाई पर आश्चर्य और चिंता व्यक्त की है. बयान में कहा गया है कि एक साथ इतने प्राध्यापकों  के निलंबन से राजेंद्र कॉलेज जैसे महत्वपूर्ण महाविद्यालय के कई विभाग ना केवल बंद हो गए हैं. 

बल्कि राजभवन और जयप्रकाश विश्वविद्यालय की निरंकुशता पर भी प्रश्नचिन्ह खड़ा हुआ है. प्रोफेसर प्रमेंद्र रंजन के राजेंद्र कॉलेज में प्राचार्य के पद पर नियुक्ति से जहां एक सकारात्मक संदेश गया था और सारण के लोगों में एक विश्वास का भाव पैदा हुआ था कि राजभवन और विश्वविद्यालय प्रोफेसर रंजन जैसे शिक्षाविद्, कर्मठ और ईमानदार प्राचार्य के माध्यम से महाविद्यालय की बदहाल स्थिति को सुधारना चाहता है और सचमुच थोड़ी ही दिनों में वहां विकास दिखाई भी देने लगा था.

किंतु अनावश्यक रूप से एक छोटी सी घटना को तूल देकर जिसे मीडिया ने लाभ लोभ से वशीभूत होकर प्रचारित किया. शिक्षकों के निलंबन की यह प्रक्रिया अफसोशजनक है. इसकी जितनी भी निंदा की जाए कम है. मैं महामहिम राज्यपाल सह कुलाधिपति तथा कुलपति जयप्रकाश विश्वविद्यालय, छपरा से आग्रह करना चाहता हूं कि शिक्षकों को इतना अपमानित और प्रताड़ित करने की कार्यवाही ना की जाए. जनहित में और छात्र हित में अविलंब निलंबन आदेश वापस लिया जाए. इसके लिए चेतावनी ही काफी हो सकती है क्योंकि जिस घटना को आधार बनाया गया है वह तो कार्यक्रम के बाद की घटना है और वह भी ऐसी कोई घटना नहीं जिसके लिए पूरे महाविद्यालय के कई विभागों में पठन-पाठन बंद कर दिया जाए.

Find Us on Facebook

Trending News