दूसरे राज्यों में काम करने के लिए मजदूर तैयार करने का उद्योग चला रही है बिहार सरकार, 30 साल से यही उद्योग आगे बढ़ा, प्रशांत किशोर का एक और बड़ा हमला

दूसरे राज्यों में काम करने के लिए मजदूर तैयार करने का उद्योग चला रही है बिहार सरकार, 30 साल से यही उद्योग आगे बढ़ा, प्रशांत किशोर का एक और बड़ा हमला

DESK : बिहार में 3500 किलोमीटर की जनसुराज यात्रा पर निकले चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर हर बार कुछ ऐसा बोल जाते हैं कि राज्य  सरकार की मुश्किलें बढ़ जाती है। जहां दो दिन पहले उन्होंने यह कहकर बड़ा बवाल कर दिया था कि नीतीश कुमार एक बार फिर से भाजपा के संपर्क में है, वहीं इस बार उन्होंने बिहार सरकार पर रोजगार और उद्योग धंधों को लेकर सवाल उठाया है। 

रोजगार को लेकर शुक्रवार को उन्होंने कहा कि अब बिहार में आईएएस-आईपीएस पैदा नहीं हो रहे हैं। यहां के बच्चे पढ़ तो जरूर जाते हैं MA-BA कर लेते हैं। लेकिन, उन्हें नौकरी नहीं मिलती है। और वह मजदूरी करने के लिए पलायन कर जाते हैं। यहां हम लोग लो ग्रेड लेबर मजदूर पैदा कर रहे हैं। इसके बाद इन्हें पूरे बिहार में घुमा रहे हैं। यह बिहार की धरती ज्ञान की धरती रही है। लेकिन अब यह मजदूरों वाली धरती रह गई है। नरकटियागंज में एक कार्यक्रम के दौरान प्रशांत किशोर ने ये बयान दिया है।

जन सुराज यात्रा पर निकले प्रशांत किशोर ने अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला है। उन्होंने कहा है कि गुजरात से नरेंद्र मोदी जी के 26 एमपी जीते हैं और वो फैक्ट्री के मालिक बन गए हैं। वहीं बिहार की जनता ने 39 सांसदों को जिताया है तो हमारे राज्य के युवा फैक्ट्री में मजदूर बन गए। 

प्रशांत किशोर ने कहा कि हमने हर-हर मोदी, घर-घर मोदी का नारा लगाया और वह प्रधानमंत्री बने। इसके बदले हमें रसोई गैस का प्रति सिलेंडर पांच सौ रुपये से बढ़कर 1,300 रुपये का मिल रहा है। अगर वे एक और कार्यकाल के लिए चुने जाते हैं तो कीमत 2,000 रुपये प्रति सिलेंडर तक पहुंच सकती है।

नीतीश लालू पर साधा निशाना

प्रशांत किशोर ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि बिहार में एक ही आदमी, एक ही परिवार लगातार 25-30 सालों से अपना एकाधिकार बनाए हुए हैं। बिहार कुछ परिवारों की हाथ का खिलौना ना बन जाए। इसलिए जो लोग समाज से कुछ लेना नहीं ,समाज को देना चाहते हैं। लोगों को एक मंच पर लाकर एक वैकल्पिक व्यवस्था को तैयार करने के लिए हम पदयात्रा पर निकले हैं।

क्या बोले सीएम

प्रशांत किशोर के इस बयान के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि प्रशांत किशोर के किसी बात को वह नोटिस नहीं करते हैं। पहले वह उनका सम्मान करते थे। लेकिन वह क्या से क्या बोलते रहते हैं। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है। प्रशांत किशोर के बारे मुझसे पूछा मत कीजिये।

जन सुराज पदयात्रा पर हैं प्रशांत किशोर

दरअसल, प्रशांत किशोर जन सुराज पदयात्रा पर हैं। फिलहाल चंपारण में पदयात्रा कर रहे हैं। इस दौरान रोज लोगों से मिलते हैं और अपनी पदयात्रा के उद्देश्य के बारे में बताते हैं। इसी दौरान प्रशांत किशोर नहीं बेरोजगारी वाली बात कही। उन्होंने बताया कि यहां के बच्चे पढ़े-लिखे होने के बावजूद पलायन कर जाते हैं।


Find Us on Facebook

Trending News