बिहार विधानमंडल का शीतकालीन सत्र आज से, जानें क्या होगा इस बार नया

बिहार विधानमंडल का शीतकालीन सत्र आज से, जानें क्या होगा इस बार नया

PATNA : बिहार विधानमंडल में आज से शीतकालीन सत्र आरंभ हो रहा है। जिसको लेकर विपक्ष की तरफ से सरकार को घेरने की पूरी तैयारी कर ली गई है। जहां विपक्ष शराब से होनेवाली मौतों और रोजगार जैसे मुद्दों पर सरकार से सवाल करेगी, वहीं राज्य सरकार की तरफ से बिहार के दो सीटों पर हुए उप चुनाव में मिली जीत के बाद बुलंद हौंसले के साथ सत्र में अपने जवाब देगी। वही विपक्ष में पहली बार ऐसा होगा कि कांग्रेस और राजद अलग अलग होंगे। वहीं विधानमंडल में इस बार कुछ नई चीजें भी देखने को मिलेंगी

पेश किए जाएंगे तीन विधेयक

शुक्रवार तक चलनेवाले शीतकालीन सत्र के दौरान महत्वपूर्ण अध्यादेश पेश किए जाएंगे। जो बिहार तकनीकी सेवा आयोग से जुड़ा है। इसके अलावा तीन विधेयक भी पेश किए जाएंगे। जिनमें बिहार निजी विवि संशोधन विधेयक, दाखिल-खारिज संशोधन विधेयक और बिहार तकनीक सेवा आयोग संशोधन विधेयक शामिल है। विधानसभा में आगामी 30 नवंबर और एक दिसंबर को यह विधेयक पेश किए जाएंगे।

पेश किया जाएगा 13 हजार करोड़ का अनुपूरक बजट

शीतकालीन सत्र के दौरान चालू वित्तिय वर्ष का दूसरा अनुपूरक बजट पेश किया जाएगा। यह अनुपूरक बजट 13 हजार करोड़ से अधिक की होगी। इस राशि से बिहार आकस्मिक निधि के तहत खर्च की पूर्ति की जाएगी। कोरोना काल और बाढ़ राहत में इस निधि से पैसे खर्च किए गए थे। मौजूद वित्तिय वर्ष में पहले अनुपूरक बजट में 27,050 करोड़ स्वीकृत किए गए थे।

विधानमंडल के शीतकालीन सत्र न सिर्फ विधेयकों और जनता की समस्याों को लेकर खास होगा, बल्कि इस बार कुछ नए चेहरे भी सदन में नजर आएंगे। इनमें विधानसभा उप चुनाव में जदयू के नवनिर्वाचित दोनों विधायक सहित विधान परिषद में भी नए चेहरे नजर आएंगे। इसके अलावा जो बात सबसे खास होगी कि इस बार विधान परिषद पूरी तरह से डिजिटल होगा। यहां एमएलसी को उनके सवालों के जवाब सीधे उनके टेबल पर उपलब्ध होंगे। इसके लिए ई-सदन आरंभ किया गया है, जो कि देश के किसी विधानमंडल में पहली बार होगा। बात अगर विपक्ष की करें सालों बाद ऐसा होगा कि कांग्रेस और राजद की राहें एक दूसरे से जुदा होंगी।



Find Us on Facebook

Trending News