BIHAR NEWS: पति की लंबी आयु के लिए महिलाओं ने किया वट सावित्री पूजन, मंदिरों में उमड़ी भीड़

BIHAR NEWS: पति की लंबी आयु के लिए महिलाओं ने किया वट सावित्री पूजन, मंदिरों में उमड़ी भीड़

BHAGALPUR/PURNEA: पति की लंबी उम्र की कामना के लिए मनाए जाने वाले वट सावित्री व्रत को लेकर महिलाओं के बीच उत्साह और उल्लास देखा गया। शहर- गांव में स्थित मंदिरों और वट वृक्ष के नीचे महिलाओं को बड़ी संख्या में पूजा करते देखा गया। ज्येष्ठ मास की अमावस्या के दिन मनाए जाने वाले पर्व को लेकर महिलाएं अहले सुबह से विभिन्न मंदिरों और वट वृक्ष के नीचे पहुंचकर पूरे आस्था, श्रद्धा और भक्ति के साथ पूजा अर्चना करती दिखीं।

ऐसी मान्यता है कि इस दिन सावित्री ने अपने पति के प्राण वापस लौटाने के लिए यमराज को विवश कर दिया था। इस दिन वट वृक्ष का पूजन कर सावित्री-सत्यवान की कथा का श्रवण किया जाता है। वट सावित्री व्रत को बिहार के साथ-साथ उत्तर भारत के कई इलाकों पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और उड़ीसा में भी मनाया जाता है। वहीं महाराष्ट्र, गुजरात और दक्षिणी भारतीय राज्यों में इसके 15 दिन बाद यानी ज्येष्ठ शुक्ल पूर्णिमा को वट सावित्री व्रत रखा जाता है। इस दिन शादीशुदा महिलाएं सुबह जल्दी उठकर, स्नान कर, सोलह सिंगार कर अपने पति की लंबी आयु के लिए वट वृक्ष के नीचे पहुंचकर उनका पूजन करती है। ऐसी मान्यता है कि वटवृक्ष में सभी देवताओं का वास होता है। इस वृक्ष के नीचे सावित्री ने अपने कठोर तपस्या के बल पर मृत पति सत्यवान के प्राण यमराज से वापस लेकर उन्हें जीवित कर दिया था। यही नहीं अगर दांपत्‍य जीवन में कोई परेशानी चल रही हो तो वह भी इस व्रत के प्रताप से दूर हो जाती है। 

इस मौके पर भागलपुर, पूर्णिया सहित कई हिस्सों में पूरे हर्षोल्लास के साथ वट सावित्री का पूजन किया गया। हालांकि कई जगहों पर महिलाओं द्वारा कोरोना गाइडलाइन का उल्लंघन भी किया गया, मगर विधि-विधान के आगे कोरोना छोटा पड़ गया।

Find Us on Facebook

Trending News