BIHAR : विडंबना ! नहीं मिला पीपीई किट तो प्लास्टिक पहनकर किया अंतिम संस्कार, कोरोना से मौत के बाद 14 घंटे तक घर में पड़ी रही लाश...

BIHAR : विडंबना ! नहीं मिला पीपीई किट तो प्लास्टिक पहनकर किया अंतिम संस्कार, कोरोना से मौत के बाद 14 घंटे तक घर में पड़ी रही लाश...

NALANDA : कोरोना से मौत के बाद सरकार द्वारा किए जा रहे हैं वादी वायदे उनकी ही ग्रुप गृह जिले में खोखला साबित हो रहा है। जहां कोरोना से मौत के बाद 14 घंटे तक परिजन स्वास्थ्य विभाग व अन्य मंत्री विधायक से पीपीई किट उपलब्ध कराने की मांग करते रहे मगर किसी ने एक नहीं सुनी। इसके बाद गांव के ही सामाजिक कार्यकर्ताओं ने बाजार से प्लास्टिक लाकर शव को लपेटने के बाद स्वयं प्लास्टिक पहनकर अंतिम संस्कार किया। जिसका वीडियो ग्रामीणों द्वारा वायरल किया जा रहा है। 

वायरल वीडियो परवलपुर प्रखंड क्षेत्र के सिनावां गांव का बताया जा रहा है । जहाँ कोरोना से 60 वर्षीय नरेश राउत की मौत हो गयी थी। ग्रामीणों ने बताया कि स्थानीय विधायक से भी मदद मांगी जिले के मंत्री से बात करने की कोशिश की फोन किसी और ने रिसीव किया बताया मंत्री जी क्वॉरेंटाइन है। सिविल सर्जन का भी मोबाइल बंद था। अधिक गर्मी से शव की स्थिति खराब होने लगी थी। इसके बाद गुरुवार की दोपहर आधा दर्जन सामाजिक कार्यकर्ता जुटे और खुद को सेनेटाइज कर मास्क लगाकर गांव के श्मशान घाट में शव का दाह संस्कार कर दिया इन लोगों ने बाजार से प्लास्टिक खरीद कर शरीर में लपेट लिया था। 

सामाजिक कार्यकर्ता बाल्मीकि यादव ने बताया कि 60 साल के नरेश राउत ने 3 दिन पूर्व एकंगरसराय जाकर कोरोना का जांच कराया था।  2 दिन बाद मंगलवार को मोबाइल पर पॉजिटिव होने का मैसेज आया। बुधवार की देर रात्रि में ऑक्सीजन की कमी से उनकी मौत हो गई। जिसके बाद नरेश राउत की लाश 14 घंटे तक घर में पड़ी रही, लेकिन न तो प्रशासन और न ही किसी जनप्रतिनिधि ने अंतिम संस्कार कराने के लिए किसी प्रकार की पहल की।


Find Us on Facebook

Trending News