वाह रे सुशासन, फिर मारी गोली! बोले सीएम के लाडले विधायक - दोस्ती में गोली मारना अपराध थोड़े है

वाह रे सुशासन, फिर मारी गोली! बोले सीएम के लाडले विधायक - दोस्ती में गोली मारना अपराध थोड़े है

नवगछिया। पुलिस जिला में अपराध चरम सीमा पर है। गोलियां चला देना वहाँ के अपराधियों के लिए आम बात हो गयी है। ताजा मामला रंगरा थाना क्षेत्र के मदरौनी का है जहां देर रात अपराधियों ने शिव मंदिर के समीप 22 वर्षीय मनीष को गोली मार दी। घटना की सूचना पर मनीष के परिजनों ने घायल मनीष को नवगछिया अनुमंडल अस्पताल लेकर पहुंचे जहाँ से उन्हें मायागंज अस्पताल रेफर कर दिया गया। वहीं गोपालपुर के विधायक गोपाल मंडल यहां भी अपने विवादास्पद बयान देने से पीछे नहीं रहे। उन्होंने कहा कि दोस्ती में गोली मरना-मारना लगा रहता है, यह अपराध थोड़े  ही है।

मनीष के भाई सरोज ने वहीं के एक युवक निशांत उसके भाई और उसके पिता पर गोली चलाने का आरोप लगाते हुए कहा कि देर रात निशांत शराब पीकर घर के सामने हंगामा करने लगे जब उसके भाई मनीष ने मना किया तो फिर वो वहां से चले गए। उसके बाद मनीष अपने दोस्त के यहाँ सोने जा रहे थे तभी सुनसान रास्ते में अकेला पाकर मनीष को सीने में गोली मार दी और भाग गए। घायल मनीष के भाई ने बताया कि निशांत शराब औऱ हथियार की तस्करी करता है।

गढ़ दी नई परिभाषा

घटना की सूचना पर गोपालपुर विधायक गोपाल मंडल भी मायागंज अस्पताल पहुँचे।  गोपालपुर विधायक गोपाल मंडल ने बिहार में बढ़ रहे अपराधिक घटनाओं को लेकर नई परिभाषा गढ़ते हुए कहा कि यह क्राइम नहीं है, क्राइम वह है जब कोई रास्ता में लूटपाट जैसी घटनाओं को अंजाम देता है। दोस्ती में गोली मार दी गयी है। मरना या मारना अपराध नहीं। इस तरह की वारदातें पूरे देश में होती हैं। कोई घर में किसी को मार देता है, तो इसमें पुलिस क्या कर सकती है। इसे रोकने के लिए समाज की सोच बदलनी होगी



Find Us on Facebook

Trending News