बिहार की छवि हुई खराब! बंगाल नहीं, प्रदेश में हुई थी वंदे भारत पर पत्थर फेंकने की घटना, तीन नाबालिक को पुलिस ने पकड़ा

बिहार की छवि हुई खराब! बंगाल नहीं, प्रदेश में हुई थी वंदे भारत पर पत्थर फेंकने की घटना, तीन नाबालिक को पुलिस ने पकड़ा

DESK : बीते 30 दिसंबर को न्यू जलपाईगुड़ी से हावड़ा के बीच शुरू हुई वंदे भारत एक्सप्रेस पर दो बार पथराव की घटना हो चुकी है। अब तक यह माना जा रहा था ममता बनर्जी के समर्थकों ने इस  घटना को अंजाम दिया था। लेकिन, अब यह साफ हो गया है कि यह सारी घटना बंगाल नहीं, बल्कि बिहार में हुई थी। मामले में 14 साल के कम उम्र के तीन किशोर को पुलिस ने हिरासत में लिया है। वहीं एक और किशोर की तलाश की जा रही है। 

किशनगंज के पोठिया पुलिस  ने की कार्रवाई

वंदे भारत एक्सप्रेस पर पत्थर फेंकने को लेकर की गई कार्रवाई  किशनगंज के पोठिया थाना क्षेत्र में की गई है। बताया गया कि यहां के निमला गांव के समीप होकर गुजर रही वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन में पत्थर मारने के आरोप में पोठिया पुलिस ने तीन नाबालिग को अभिरक्षा में लिया है। सभी आरोपियों का उम्र 14 वर्ष से कम है। पोठिया पुलिस ने वीडियो फुटेज के आधार पर तीनों आरोपियों को धर दबोचा है, जबकि एक अन्य नाबालिग को पकड़ने के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है।

जानकारी के अनुसार तीन जनवरी को दोपहर 12 बजकर 55 मिनट में वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन पोठिया थाना क्षेत्र के निमला गांव से होकर गुजर रही थी। इस दौरान आरोपियों के द्वारा पत्थरबाजी कर कोच संख्या C/6 को क्षतिग्रस्त कर दिया गया था। घटना की जांच के बाद आज किशनगंज रेलवे सुरक्षा बल के निरक्षक अमृत कुमार वर्मा के लिखित शिकायत पर पोठिया थाने में मामला दर्ज करवाया गया। वहीं, पोठिया पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए तीन नाबालिग आरोपियों को अभिरक्षा लिया है. तीनों आरोपी पोठिया थाना क्षेत्र के निमला गांव का निवासी बताएं जा रहे हैं।

बता दें इस मामले में टीएमसी कार्यकर्ताओं पर लग रहे आरोपों पर ममता बनर्जी ने कड़ी आपत्ती जाहिर की थी। उन्होंने कहा था कि यह सारी घटना बंगाल में नहीं, बल्कि बिहार में हुई थी। उन्होंने कहा था कि अब तक बिहार में एक भी वंदे भारत ट्रेन शुरू नहीं के कारण लोगों ने इस ट्रेन पर पथराव किया था।

Find Us on Facebook

Trending News