49 साल बाद पटना से छिन जाएगा गंगा बाढ़ नियंत्रण आयोग का मुख्यालय

49 साल बाद पटना से छिन जाएगा गंगा बाढ़ नियंत्रण आयोग का मुख्यालय

पटना। गंगा बाढ़ नियंत्रण आयोग के मुख्यालय पटना से लखनऊ शिफ्ट करने की तैयारी की जा रही है। पिछले 49 साल से इस आयोग का मुख्यालय पटना में था लेकिन बताया जा रहा है कि अगले 2 महीने में इसका पता लखनऊ हो जाएगा।

पटना में गंगा बाढ़ नियंत्रण आयोग की स्थापना 1972 में की गई थी। लगभग 49 साल तक 11 राज्यों में आनेवाले बाढ़ की निगरानी  पटना से ही किया जा रही था अब इसे लखनऊ शिफ्ट करने की तैयारी है। बिहार इससे अनजान है। लेकिन यूपी के आग्रह पर आयोग के द्वारा प्रस्ताव बनाया जा रहा है। जल्दी ही इसे केंद्रीय जल शक्ति मंत्रालय को सौंपा जाएगा और सहमति मिली तो एक 11 राज्यों की बाढ़ से जुड़ी योजना के पटना से निगरानी करने वाले मुख्यालय का पता लखनऊ हो जाएगा

 मुख्यालय को पटना से लखनऊ ले जाने पर गंगा में बाढ़ नियंत्रण आयोग ना सिर्फ सहमत है बल्कि उसने तैयारी भी शुरू कर दी है।  लखनऊ में 2015 में आयोग का क्षेत्रीय कार्यालय खोला गया था उस समय किसी को पता नहीं था कि 1 दिन मुख्यालय भी वहीं शिफ्ट कर दिया जाएगा आयोग आयोग के अध्यक्ष मनजीत सिंह ढिल्लों ने भी माना है कि मुख्यालय को लखनऊ से करने की तैयारी की जा रही है ओन्ली बताया कि अगले 2 महीने के अंदर यह प्रोसेस पूरा हो जाएगा

जिन राज्यों पर पटना से नियंत्रण किया जाता था उनमें बिहार यूपी उत्तराखंड हरियाणा हिमाचल प्रदेश झारखंड छत्तीसगढ़ मध्य प्रदेश दिल्ली राजस्थान और पश्चिम बंगाल शामिल है। पिछले कुछ दिनों में बिहार के लिए दूसरा बड़ा झटका है क्योंकि इससे पहले गया स्थित भारतीय सैन्य अकादमी को बंद करने का फरमान जारी हुआ था। पूर्व में भी हाजीपुर स्थित पूर्व मध्य रेलवे मुख्यालय को शिफ्ट करने की कोशिश की गई थी।


Find Us on Facebook

Trending News