तेजप्रताप-भाई वीरेन्द्र की लड़ाई में बीजेपी ने डाला घी, कहा-तेजप्रताप के भय से भाई वीरेन्द्र की पतलून ढीली हो जाती है...

PATNA : तेजप्रताप यादव और भाई वीरेन्द्र के बीच जारी जुबानी जंग को बीजेपी ने घी डाल दिया है। बीजेपी ने कहा है कि तेजप्रताप के खौफ में राजद विधायक भाई वीरेन्द्र का पतलून ढ़ीला हो जाता है।बीजेपी प्रवक्ता डा. निखिल आनंद ने राजद विधायक बाई वीरेन्द्र से पूछा है कि वे तब कहां थे, जब तेजप्रताप यादव ने उनके घर में घुसकर उनकी हैसियत पूछी थी तब उनका मुंह क्यों बंद था।तब वे क्यों नहीं उसी मंच पर विरोध किए थे?भाई वीरेन्द्र को उसी समय तेजप्रताप से माफी मंगवानी चाहिए थी।लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया। भाई वीरेन्द्र सम्मान और इज्जत-प्रतिष्ठा को गिरवी रखकर राजनीति कर रहे हैं।मनेर विधायक भाई वीरेन्द्र की राजनीति में कोई हैसियत नहीं है।

अगर उन्हें थोड़ी भी शर्म बची है तो रामकृपाल यादव की तरह राजद को लात मारकर निकल जाते ।लेकिन वे ऐसा नहीं करेंगे क्योंकि उनका कोई वजूद नहीं है। बीजेपी प्रवक्ता निखिल आनंद ने कहा कि वे अपनी भद्द पिटवाएं लेकिन मनेर की जनता की प्रतिष्ठा से मत खेलें, नहीं तो मनेर की जनता इस अपमान का बदला लेना जानती है।

बता दें कि विधायक और आरजेडी के मुख्य प्रवक्ता भाई वीरेन्द्र ने लालू यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। भाई वीरेन्द्र ने कहा कि कौन हैं तेजप्रताप, मैं किसी तेजप्रताप को नहीं जानता। उन्होंने कहा कि आरजेडी में वे किसी को जानते हैं तो वह तेजस्वी यादव को जानते हैं। बता दें कि तेजप्रताप यौर भाई वीरेन्द्र के बीच काफी समय से विवाद चल रहा है। दोनों एक दूसरे के खिलाफ लगातार बयानबाजी करते रहे हैं।

Find Us on Facebook

Trending News