CM नीतीश कुमार पर भाजपा का तंज, कहा- यूपी के मुख्यमंत्री योगी से सीखकर करें बिहार का भला

CM नीतीश कुमार पर भाजपा का तंज, कहा- यूपी के मुख्यमंत्री योगी से सीखकर करें बिहार का भला

पटना. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर सिताबदियारा के विकास का मामला उठाने पर भाजपा प्रवक्ता निखिल आनंद ने सीएम नीतीश पर पलटवार किया है। उन्होंने कहा है कि "नीतीश जी का योगी जी को पत्र 'विशुद्ध राजनीतिक', पत्र के लिए धन्यवाद अब योगी जी से सीख लेकर बिहार का भी भला करें, कानून- व्यवस्था ही ठीक कर दें।"

निखिल आनंद ने बिहार के सीएम नीतीश कुमार द्वारा उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ को सिताबदियारा के विकास के संदर्भ में पत्र लिखे जाने को वक्त के हिसाब से 'विशुद्ध राजनीतिक' करार दिया है। उन्होंने कहा कि जेपी के अवसरवादी, परिवारवादी वंशवादी और भ्रष्टाचार में लिप्त शिष्यों को उनका उत्तराधिकारी कहलाने का नैतिक अधिकार नहीं है। आज के वक्त में जेपी की आत्मा उनके उसूलों से अलग राह पर चलने वाले अपने शिष्यों को देखकर जरूर कराहती होगी। कांग्रेस विरोध की शपथ ले चुके जेपी के शिष्य आज कांग्रेस की गोद में बैठकर राजनीति कर रहे हैं, यह कम दुर्भाग्यपूर्ण नहीं है।

निखिल आनंद ने कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी ने लगता है कि जानकारी के अभाव में यह पत्र लिख दिया है। या फिर उनके दिवास्वप्न की अति महत्वकांक्षी के लिहाज से खबरों की सुर्खियां बनाने की खातिर लिखा गया पत्र लगता है। लेकिन जेपी के बाद की पीढ़ी के एक जागरूक नागरिक होने के नाते यह जानकारी बिहार के मुख्यमंत्री जी से साझा करना जरूरी है, जिसकी जानकारी उन्हें भी होनी चाहिए-

1. लोकनायक जयप्रकाश नारायण जी की जन्मस्थली पर अवस्थित उनके अपने घर को यथावत् बनाए रखते हुए उसके सुदृढ़ीकरण का काम बखूबी किया गया है। आगे भी इस स्थल के विकास के प्रति भारतीय जनता पार्टी कृत्संकल्पित है।

2. भारत सरकार के संस्कृति मंत्रालय द्वारा जेपी के जन्मस्थली क्षेत्र परिसर के विकास का कार्य लगातार किया जा रहा है। कई नए निर्माण कार्य, इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट के काम हुए हैं और कई निर्माण चल रहे हैं।

3. सिताबदियारा जाने वाली तमाम सड़कों जिसका जिक्र बिहार के मुख्यमंत्री जी कर रहे हैं उनके निर्माण की योजनाओं पर पहले से ही काम चल रहा है। अपूर्ण होने का मतलब यह नहीं काम नहीं हो रहा है। स्वाभाविक है कि जहां काम जारी है, वहां काम अपूर्ण होगा।

निखिल आनंद ने कहा कि उपर्युक्त संदर्भ में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी द्वारा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी को लिखा गया पत्र तात्कालिक संदर्भ में 'विशुद्ध राजनीतिक' जिसे बिहार के साथ-साथ उत्तर प्रदेश की जनता भी समझ रही है। फिर भी योगी जी को पत्र लिखने के लिए नीतीश कुमार जी का हृदय से धन्यवाद। अब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी को चाहिए कि योगी आदित्यनाथ जी से सीख लेकर बिहार का भी भला करें और कम से कम कानून व्यवस्था ही ठीक कर दें। सिताबदियारा के विकास के लिए योगी आदित्यनाथ जी की सरकार सतत् चिंतित और कृत संकल्पित है। 

निखिल ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से कहा कि बेहतर होता जेपी आंदोलन से उपजे हुए आप जैसे तमाम उनके शिष्यगण भारत के लोकतंत्र को मजबूत करने के लिए परिवारवाद, वंशवाद, भ्रष्टाचार के खिलाफ ईमानदारी से लड़ाई लड़ने का संकल्प लें, यह आज के वक्त की सबसे बड़ी राजनीतिक जरूरत है।

Find Us on Facebook

Trending News