गया में चर्चा का विषय बनी विदेशी महिला की काली भक्ति, थाईलैंड छोड़कर आई भारत, कहा सपने में माँ ने दिए दर्शन

गया में चर्चा का विषय बनी विदेशी महिला की काली भक्ति, थाईलैंड छोड़कर आई भारत, कहा सपने में माँ ने दिए दर्शन

GAYA : बिहार के गया में विदेशी महिला की काली भक्ति चर्चा का विषय बनी हुई है। दावा है कि बोधगया के मंदिर में रही इसी काली मां ने उसे स्वप्न दिया था।  जिसके बाद यहां आकर उसने सनातन धर्म अपनाया और फिर माता की भक्ति में लीन है। आश्चर्य की बात यह है कि विदेशी महिला का व्यवहार कभी-कभी ऐसा होता है। जैसे माता काली उसके शरीर पर आई हैं। मां काली जैसा गुस्सा, जीभ निकालना आदि भी वह करती है। 


भक्त मान रहे हैं काली मां का रूप

नवरात्र के मौके पर थाईलैंड की महिला अरणबी को माता काली का रूप मानकर भक्तों ने पूजा अर्चना व सातो श्रृंगार से सुशोभित किया। बुद्ध की धरती बोधगया की इस काली मां की मंदिर में भक्ति विदेशी महिला करती हैं। मां काली थाईलैंड की इस महिला पर नवरात्रा पूजा में सवार होती है तो भक्त आशीर्वाद लेने महिला के पास उसे काली रूप समझकर पहुंच जाते हैं। इस तरह काफी श्रद्धालुओं की भीड़ अनोखी काली जी (विदेशी महिला) को देखने के लिए उमङी हुई है। 

सपने में आई थी काली मां

विदेशी महिला के सहयोगी पुष्कर वर्मा बताते हैं कि विदेशी महिला पर सपने में काली मां आई थी। उसके बाद थाईलैंड छोड़कर भारत में बुद्ध की नगरी में रहने लगी है। अब बड़ी मां के नाम से जानी जाती है। बौद्ध धर्म छोड़कर सनातन धर्म परंपरा को अपना ली और काली मंदिर के निर्माण में लाखों रुपए खर्च भी कर रही है। सेवा भाव आम जनता को देने में लगी है। आज भी काफी भीड़ के बीच इनसे आशीर्वाद लेने के लिए श्रद्धालु काली मंदिर में पहुंचे। 

थाईलैंड में प्रसिद्ध है थाई देवी के नाम से

सहयोगी बताते हैं कि यह महिला थाईलैंड में थाई देवी के नाम से प्रसिद्ध है। इसने गरीबों के हित के लिए कई जगह सेंटर खोले हैं। यह बुद्धिस्ट फैमिली से है, लेकिन अब सनातन धर्म अपना ली है। इस पर मां काली सवार होती है, जिसके बाद मां काली के विभिन्न रूप इसके शरीर पर दिखने लगते हैं। वह भक्तों को आशीर्वाद भी दे रही है। वही भक्त भी काफी संख्या में लगातार आ रहे हैं। विदेशी महिला का कहना है कि उसे सपने में भारत का दर्शन आया था। भारत के जिस मंदिर का दर्शन आया था। वह बोधगया का यही काली मंदिर था, उसके बाद वह यहां आई है। 

गया से मनोज कुमार की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News