बिहार उत्तरप्रदेश मध्यप्रदेश उत्तराखंड झारखंड छत्तीसगढ़ राजस्थान पंजाब हरियाणा हिमाचल प्रदेश दिल्ली पश्चिम बंगाल

LATEST NEWS

BREAKING : सीएम नीतीश ने मुख्यमंत्री राहत कोष से जारी किए 5 करोड़ रुपये, हिमाचल में हुए नुकसान पर व्यक्त की संवेदना

BREAKING : सीएम नीतीश ने मुख्यमंत्री राहत कोष से जारी किए 5 करोड़ रुपये, हिमाचल में हुए नुकसान पर व्यक्त की संवेदना

पटना. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश के कारण हुए जानमाल के नुकसान पर संवेदना व्यक्त की है. उन्होंने हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री के नाम जारी एक पत्र में अपनी संवेदना व्यक्त करते हुए राहत एवं पुनर्वास कार्यों के लिए 5 करोड़ रुपये का योगदान देने की घोषणा की है. हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू को बिहार के सीएम नीतीश कुमार की ओर से मुख्यमंत्री राहत कोष से यह राशि भेजी गई है. 



सीएम नीतीश ने अपने संवेदना संदेश में लिखा है, ‘मैं हिमाचल प्रदेश में वर्तमान मानसून सीज़न के दौरान लगातार बारिश के कारण जानमाल की दुखद हानि और बड़े पैमाने पर संपत्तियों को हुए नुकसान से बहुत व्यथित और दुखी हूं। मैं सभी पीड़ितों और उनके परिवारों के प्रति हार्दिक संवेदना व्यक्त करता हूं।‘ उन्होंने कहा है कि ‘प्रभावित क्षेत्रों में राहत एवं पुनर्वास कार्यों के लिए मैं मुख्यमंत्री राहत कोष, बिहार से 5 करोड़ रुपये का योगदान भेज रहा हूं. मुझे विश्वास है कि आपके कुशल मार्गदर्शन और नेतृत्व में हिमाचल प्रदेश के लोग जल्द ही उन नुकसानों से उबर जायेंगे।‘ 






गौरतलब है कि हिमाचल प्रदेश में इस वर्ष मानसून में भारी बारिश हुई है. कई शहरों में भूस्खलन से बड़े स्तर पर जानमाल की क्षति हुई है. यहां तक कि राज्य के कई शहरों में आवागमन भी बाधित है. वहीं कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी भी लगातार दूसरे दिन हिमाचल प्रदेश के दौरे पर हैं.



प्रियंका गांधी ने कुल्लू जिले के बारिश प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया और राहत तथा मरम्मत कार्यों की समीक्षा की. उन्होंने केंद्र से ‘दलगत राजनीति’ से ऊपर उठने का आग्रह करते हुए कहा कि उसे यह नहीं सोचना चाहिए कि राज्य में कांग्रेस की सरकार है या भाजपा की। भारी बारिश के कारण अचानक आई बाढ़ और भूस्खलन ने 14 और 15 जुलाई को कुल्लू और मंडी जिलों में भारी तबाही मचाई थी. बयान में प्रियंका गांधी के हवाले से कहा गया, ‘‘हिमाचल के लोगों ने एकजुट होकर और प्रभावित परिवारों की मदद के लिए आगे आकर देश के लिए एक मिसाल कायम की है. 


Suggested News