यूपी में शुरू हुआ बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे, पीएम मोदी ने बताया कैसे डबल इंजन सरकार खोल रही विकास के नए द्वार

यूपी में शुरू हुआ बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे, पीएम मोदी ने बताया कैसे डबल इंजन सरकार खोल रही विकास के नए द्वार

DESK. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को जालौन में 296 किलोमीटर लंबे बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन किया. जालौन में बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे के लोकार्पण के दौरान पीएम मोदी के साथ सीएम योगी आदित्यनाथ भी मौजूद रहे. 14,850 करोड़ रुपये के निवेश से निर्मित 296 किलोमीटर लंबा बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे चार लेन के साथ परिवहन सेवाओं की सुविधा प्रदान करेगा. चित्रकूट और इटावा को जोड़ने वाले उत्तर प्रदेश के छठे बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे परियोजना का उद्घाटन करते वक्त पीएम ने इस मौके पर कहा कि ये उपहार देते हुए मुझे बहुत खुशी हो रही है. उन्‍होंने कहा यूपी में चुनौतियों को चुनौती देने की ताकत है. पीएम मोदी ने कहा कि अत्याधुनिक बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे 7 जिलों से होकर गुजरता है। यह परियोजना स्थानीय अर्थव्यवस्था और कनेक्टिविटी को बढ़ावा देगी।  इससे स्थानीय अर्थव्यवस्था को काफी फायदा होगा। इस क्षेत्र में महान औद्योगिक विकास होगा और इससे स्थानीय युवाओं के लिए अधिक अवसर आएंगे।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि 'रेवड़ी कल्‍चर' देश के विकास के लिए बहुत घातक है. उन्‍होंने खासकर देश के युवाओं को इससे सावधान रहने के लिए आगाह किया। उन्होंने कहा कि इस रेवड़ी कल्‍चर से देश आगे नहीं बढ़ेगा। 

सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे उत्तरप्रदेश और बुंदेलखंड की अर्थव्यवस्था को एक नया आयाम प्रदान करेगा। इस परियोजना की नींव प्रधान मंत्री द्वारा 2020 में रखी गई थी। कोरोना महामारी के संकट के बावजूद भी समयबद्ध ढंग से इस एक्सप्रेस-वे का बन कर तैयार होना बहुत महत्वपूर्ण है। प्रदेश के ऊर्जा मंत्री एके शर्मा ने बताया है कि प्रदेश के इतिहास में पहली बार 11 जुलाई को बिजली की सर्वाधिक मांग 26504 मेगावाट की आपूर्ति की गई। यूपी में बिजली की बढ़ती मांग को देखते हुए निजी आवासों में ग्रिड कनेक्टेड सोलर रूफ टॉप प्लांट के लिए रजिस्ट्रेशन आरम्भ किया गया है।


Find Us on Facebook

Trending News