पटना से 50 लाख फिरौती के लिए अपहृत व्यवसायी 24 घंटे में बरामद, मोकामा के कुख्यात सोनू-मोनू गिरोह के 6 सदस्य सरगना सहित गिरफ्तार

पटना से 50 लाख फिरौती के लिए अपहृत व्यवसायी 24 घंटे में बरामद, मोकामा के कुख्यात सोनू-मोनू गिरोह के 6 सदस्य सरगना सहित गिरफ्तार

पटना. 50 लाख रुपए फिरौती के लिए हुए एक व्यवसायी के अपहरण मामले को पटना पुलिस ने महज 24 घंटे में सुलझाते हुए अपहृत की सकुशल बरामदी की. अपहरण की घटना को अंजाम देने वाले मोकामा के सोनू-मोनू गिरोह के सरगना सोनू कुमार सहित 6 अपहरणकर्ताओं को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. उनके पास था लाइसेंसी हथियार और कारतूस भी बरामद हुआ है. पटना एसएसपी मानवजीत सिंह ढिल्लो ने शनिवार को बताया कि पटना के पाटलिपुत्र इंडस्ट्रियल एरिया में बैग फैक्ट्री चलाने वाले व्यवसायी कामेश राम का 1 दिसम्बर की शाम 5 बजे पटना से अपहरण हुआ था. उनके भाई गोविंद राम ने पाटलिपुत्र थाना में तुरंत इसकी शिकायत की कि अपहर्ता 50 लाख रुपए फिरौती मांग रहे हैं. 

पुलिस अधीक्षक द्वारा घटना की गंभीरता को देखते हुए एवं अपराधियों की गिरफ्तारी हेतु वृहत स्तर पर अभियान शुरू किया गया. नगर पुलिस अधीक्षक मध्य एवं पुलिस अधीक्षक ग्रामीण के नेतृत्व में एक विशेष टीम का गठन किया गया जिसमें सहायक पुलिस अधीक्षक बाढ़, पुलिस उपाधीक्षक व्यवस्था पटना, थानाध्यक्ष पाटलिपुत्र, कोतवाली एवं अन्य पुलिसकर्मियों को शामिल किया गया. पटना जिला के सीमावर्ती जिलों के सभी थानों को अलर्ट करते हुए वाहनों की जांच आरंभ की गई. जांच के दौरान अपहरणकर्ताओं का लोकेशन बाढ़ थाना क्षेत्र में पाया गया.

बाढ़ में पुलिस ने तत्काल एक स्कार्पियो वाहन को रुकवाया और अपहरणकर्ताओं के चंगुल से व्यवसाई को सकुशल मुक्त कराया. साथ ही इस मामले में संलिप्त अपहरणकर्ताओं को भी गिरफ्तार किया गया. पूछताछ के दौरान पता चला अपहरण की घटना को अंजाम देने वाला कुख्यात सोनू मोनू गिरोह है. इस पर पटना जिले के मोकामा के आसपास के थानों में कई मामले दर्ज हैं. साथ ही लखीसराय और बेगूसराय जिलों में भी मामला दर्ज है. आरोपियों के पास से एक ऑटोमेटिक पिस्टल, मैगजीन सहित जिंदा कारतूस बरामद हुआ है.

कुख्यात सोनू पर वर्ष 2017 में बाढ़ कोर्ट में पेशी के दौरान पचमहला थाना के जलालपुर निवासी गुड्डू सिंह की गोली मारकर हत्या करने का आरोप है. इसमें दो अन्य लोग गोली लगने से जख्मी हो गए थे. इसके अलावा वर्ष 2019 में तत्कालीन कार्यक्रम पदाधिकारी मनरेगा मोकामा का नवीन कुमार निश्चल का बेगूसराय जिला तेघड़ा थाना क्षेत्र से अपहरण कर लिया गया था. गिरफ्तार अपराधियों की पहचान परशुराम कुमार थाना भदौर गांव बकमा. सोनू कुमार थाना पचमहला-गांव नौरंगा जलालपुर, चंदन कुमार थाना भदौर गांव अजगरा, बबलू कुमार थाना बाढ़ गांव शहरी, शुभम राज थाना मरांची गांव नौरंगा जलालपुर, सौरभ कुमार थाना मरांची गांव  नौरंगा जलालपुर के रूप में हुई है. 

पूछताछ के दौरान अपहरणकर्ताओं ने बताया कि कामेश राम के भाई रजनीश गोविंद के साथ परशुराम सिंह एवं सोनू कुमार का पैसे का लेनदेन का विवाद चल रहा था. अपहृत पक्ष इन लोगों का बकाया पैसा देने में टालमटोल कर रहे थे. इसी कारण में होने कामेश राम का अपहरण किया गया. पुलिस इस मामले की विभिन्न एंग्लों से जांच कर रही है. जांच में यह भी पता चला कि जो लाइसेंसी पिस्टल है वह गिरफ्तार बबलू कुमार के भाई का है जो सेना का जवान है. 


Find Us on Facebook

Trending News