कैप्टन अमरिंदर सिंह का कांग्रेस से इस्तीफा, सोनिया गांधी को 7 पन्नों का भेजा रिजाइन लेटर

कैप्टन अमरिंदर सिंह का कांग्रेस से इस्तीफा, सोनिया गांधी को 7 पन्नों का भेजा रिजाइन लेटर

Desk. पंजाब में बड़ी सियासी खबर आ रही है. यहां दिवाली से पहले कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पंजाब से नाता तोड़ लिया है. मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद कांग्रेस से नाराज चल रहे कैप्टन अमरिंदर सिंह ने आज कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया है. उनकी कांग्रेस छोड़ने की अटकलें के बाद कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी लगातार उन्हें मानाने की कोशिश कर रही थी. बता दें कि कांग्रेस छोड़ने से पहले कैप्टन अमरिंदर सिंह पंजाब में नयी पार्टी बनायी थी. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को भेजे 7 पन्नों के इस्तीफे में उन्होंने अपने पूरे सियासी सफर का जिक्र किया है. अमरिंदर ने कांग्रेस हाईकमान के साथ नवजोत सिद्धू पर भी सवाल खड़े किए. 

अमरिंदर ने 18 सितंबर को पंजाब के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दिया था. इसके बाद ही उन्होंने कांग्रेस छोड़ने की घोषणा कर दी थी. मंगलवार को उन्होंने अपनी नई पार्टी पंजाब लोक कांग्रेस की घोषणा कर दी. अमरिंदर पहले ही कह चुके हैं कि वे पंजाब में सभी 117 सीटों पर चुनाव लड़ेंगे. इसके लिए पहले किसान आंदोलन का हल निकलवाएंगे. उसके बाद भाजपा और अकाली दल के बागी नेताओं से गठजोड़ करेंगे. हालांकि, कांग्रेस ने कैप्टन को मनाने की कोशिश भी की थी लेकिन वे नहीं माने.

अमरिंदर सिंह ने नवजोत सिद्धू को पंजाब कांग्रेस प्रधान बनाने पर भी बड़े सवाल उठाए. उन्होंने कहा कि मेरे और पंजाब के सभी सांसदों के विरोध के बावजूद सिद्धू को जिम्मेदारी दी गई. उन्होंने सिद्धू को पाक परस्त करार देते हुए कहा कि उन्होंने सार्वजनिक तौर पर पाकिस्तान के आर्मी चीफ और प्रधानमंत्री इमरान खान को गले लगाया. यह दोनों ही भारत में आतंकवाद फैलाने के लिए जिम्मेदार हैं.


Find Us on Facebook

Trending News