बिहार उत्तरप्रदेश मध्यप्रदेश उत्तराखंड झारखंड छत्तीसगढ़ राजस्थान पंजाब हरियाणा हिमाचल प्रदेश दिल्ली पश्चिम बंगाल

BREAKING NEWS

  • मोतिहारी में एचएम और डीपीएम के बीच जमकर चलें लात घूंसे, वीडियो सोशल मीडिया में हुआ वायरल
  • मोतिहारी में एचएम और डीपीएम के बीच जमकर चलें लात घूंसे, वीडियो सोशल मीडिया में हुआ वायरल

  • बांका में अवैध खनन रोकने गए दारोगा और सिपाही पर बालू माफियाओं ने कुल्हाड़ी से किया, जब्त बालू लदे ट्रैक्टर लेकर हुए फरार
  • बांका में अवैध खनन रोकने गए दारोगा और सिपाही पर बालू माफियाओं ने कुल्हाड़ी से किया, जब्त बालू

  • गया में अनियंत्रित वाहन की चपेट में आने से सरकारी शिक्षक की हुई मौत, परिजनों में मचा कोहराम
  • गया में अनियंत्रित वाहन की चपेट में आने से सरकारी शिक्षक की हुई मौत, परिजनों में मचा कोहराम

  • पुण्यतिथि पर याद किए गए अखिल भारतीय कायस्थ महासभा के भूतपूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष रवि नंदन सहाय, रविशंकर प्रसाद और आरके सिन्हा ने दी श्रद्धांजलि
  • पुण्यतिथि पर याद किए गए अखिल भारतीय कायस्थ महासभा के भूतपूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष रवि नंदन सहाय, रविशंकर प्रसाद

  • खगड़िया में रंग लायी जदयू विधायक डॉ. संजीव की पहल, 9 करोड़ की लागत से 100 एकड़ जमीन होगा विकसित, उद्योग लगाने के लिए होंगे आवंटित
  • खगड़िया में रंग लायी जदयू विधायक डॉ. संजीव की पहल, 9 करोड़ की लागत से 100 एकड़ जमीन

  • सीएम योगी की कार के आगे चल रही एंटी डेमो गाड़ी पलटी, हादसे में पांच पुलिसकर्मी सहित नौ लोग बुरी तरह से चोटिल
  • सीएम योगी की कार के आगे चल रही एंटी डेमो गाड़ी पलटी, हादसे में पांच पुलिसकर्मी सहित नौ

  • हथुआ राज के महाराजा मृगेंद्र प्रताप शाही को मिली मानद डॉक्टरेट की उपाधि, थाईलैण्ड के प्रसिद्ध विश्वविद्यालय ने सामाजिक कार्यों के लिए किया सम्मानित
  • हथुआ राज के महाराजा मृगेंद्र प्रताप शाही को मिली मानद डॉक्टरेट की उपाधि, थाईलैण्ड के प्रसिद्ध विश्वविद्यालय ने

  • कोटा में नीट की तैयारी कर रही छात्रा ने की आत्महत्या की कोशिश, समय रहते पहुंच गई मां
  • कोटा में नीट की तैयारी कर रही छात्रा ने की आत्महत्या की कोशिश, समय रहते पहुंच गई मां

  • जमुई के टीआर नारायण हेरिटेज प्ले स्कूल में धूमधाम से मनाया गया पहला वार्षिकोत्सव, बच्चों ने दी एक से बढ़कर एक प्रस्तुति
  • जमुई के टीआर नारायण हेरिटेज प्ले स्कूल में धूमधाम से मनाया गया पहला वार्षिकोत्सव, बच्चों ने दी एक

  • परिवार से फ्लैट खाली कराने में गुंडों की सहायता लेना कंकड़बाग थाने को पड़ा भारी, दोषी पुलिसकर्मी अपने पॉकेट से देंगे पीड़ित को मुआवजा, हाईकोर्ट का निर्देश
  • परिवार से फ्लैट खाली कराने में गुंडों की सहायता लेना कंकड़बाग थाने को पड़ा भारी, दोषी पुलिसकर्मी अपने

जाति गणना पर लगेगी रोक ! सुप्रीम कोर्ट में सॉलिसिटर जनरल का आज रखेंगे केंद्र का पक्ष, शीर्ष न्यायालय पर टिकी निगाहें

जाति गणना पर लगेगी रोक ! सुप्रीम कोर्ट में सॉलिसिटर जनरल का आज रखेंगे केंद्र का पक्ष, शीर्ष न्यायालय पर टिकी निगाहें

पटना. बिहार की नीतीश सरकार का राज्य में जाति गणना कराने का निर्णय सही था या फिर इसकी रिपोर्ट सार्वजनिक करने पर रोक लगेगी इसे लेकर सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में अहम सुनवाई होनी है. जस्टिस संजीव खन्ना और जस्टिस एसवीएन भट्टी की बेंच इस ममाले को सुन रही है. जाति गणना पर रोक को लेकर दायर याचिका पर पिछली सुनवाई 18 अगस्त को हुई थी. तब सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने एक हफ्ते का समय मांगा था. केंद्र की ओर से सॉलिसिटर जनरल ने कोर्ट में कहा था कि हम इस मुद्दे पर पक्ष या उस पक्ष की ओर से नहीं हैं, लेकिन इस प्रक्रिया के कुछ नतीजे हो सकते हैं और इसलिए हम अपना सबमिशन दाखिल करना चाहते हैं.

अब इस मुद्दे पर आज सॉलिसिटर जनरल अपना पक्ष रख सकते हैं. वहीं बिहार सरकार का पक्ष भी इस मामले में सुना जाएगा. वहीं जाति गणना के खिलाफ याचिका दायर करने वालों की आपत्ति पर गौर करने के बाद कोर्ट संभव है इस मामले में आज कोई अहम निर्णय ले. हालांकि बिहार सरकार ने पहले ही कहा है कि जाति गणना का काम पूरा हो चुका है. अब डॉक्यूमेंट का काम चल रहा है. जल्द ही इसकी विस्तृत रिपोर्ट सार्वजनिक की जा सकती है. 

18 अगस्त को कोर्ट मे सुनवाई के दौरान बिहार सरकार की ओर से बताया गया था कि बिहार में सर्वे का काम पूरा हो चुका है. आंकड़े भी ऑनलाइन अपलोड किए जा रहे हैं. इसके पहले पटना हाई कोर्ट ने इस मामले में 1 अगस्त को अपने फैसले में कहा था कि वह जाति गणना पर रोक नहीं लगाएगी. साथ ही इसी से जुडी एक अन्य याचिका में सुप्रीम कोर्ट ने स्पष्ट कहा था कि बिहार सरकार का पक्ष सुने बिना कोई रोक नहीं लगाई जा सकती. इन सबके बीच बिहार सरकार ने राज्य में जाति गणना का काम भी पूरा कर लिया.  

ऐसे में सुप्रीम कोर्ट में आज सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता का पक्ष सुने जाने के बाद इस पर कोर्ट का अहम फैसला आ सकता है. अगर कोर्ट ने बिहार सरकार को अनुमति दे दी तो यह देश में पहली बार होगा जब कोई राज्य अपने यहां जाति गणना की रिपोर्ट को सार्वजनिक करेगा. इसके पहले कर्नाटक और राज्यस्थान में हुई इसी तरह की सर्वे को अब तक सार्वजनिक नहीं किया गया.