कटिहार पुलिस के तकनीक के आगे CBI-CID भी फेल, सबूत में मिले मूढ़ी और चटनी के सहारे कर दिया बड़ी लूट का पर्दाफाश, पूरे गैंग को पकड़ लिया

कटिहार पुलिस के तकनीक के आगे CBI-CID भी फेल, सबूत में मिले मूढ़ी और चटनी के सहारे कर दिया बड़ी लूट का पर्दाफाश, पूरे गैंग को पकड़ लिया

KATIHAR : अपराधी चाहे लाख शातिर क्यों न हो बस उसकी एक चूक उसे सलाखों के पीछे पहुंचाने के लिए काफी होता है, कटिहार पुलिस ने प्राणपुर थाना क्षेत्र के एक महीना पहले 29 नवंबर को रात में टिक्कू सोरेन के घर हुए डकैती के मामले को सुलझाते हुए इस बात को एक बार फिर से साबित कर दिया है, कटिहार पुलिस ने किस तरह से मूढ़ी और चटनी की पहचान करते हुए अपराधियों की गिरेबान तक पहुंच कर डकैती के मामले में शामिल आठ आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है.

टेक्निकल डिवाइस के सहयोग, पुलिसिया सूत्र के साथ-साथ किसी मामले के सुलझाने के लिए अगर घटना को अंजाम देने वाले गिरोह के द्वारा भोजन में जो मुढ़ी चटनी का इस्तेमाल किया गया है उसके आधार पर पुलिस मामले की तह तक पहुंच जाए तो समझ लीजिए पुलिस के लिए हर सुराग कितना अहम हो जाता है, 29 नवंबर को प्राणपुर थाना क्षेत्र के चिकनी टोला संथाली में टिक्कू सोरेन के घर अज्ञात डकैतों ने देसी बम के सहारे हमला बोलते हुए 30,000 नगद जरूरी कागजात एवं अन्य कई सामान लूट लिया था इस दौरान अपराधी ने मारपीट कर टिक्कू सोरेन उसकी पत्नी और रिश्तेदारों के साथ भी मारपीट किया था जिससे गृहस्वामी टिक्कू बुरी तरह घायल हो गया था एक महीना पहले के इस वारदात में पीड़ित टिक्कू और ग्रामीण प्रतिनिधि मामले के उद्भेदन को लेकर पुलिस को गुहार लगाया था।

 कटिहार पुलिस ने मामले को चुनौती के रूप में लेते हुए जब जांच शुरू किया तो पूरा मामला उलझा हुआ था, एसपी जितेंद्र कुमार ने कहा कि पुलिस टेक्निकल डिवाइस सपोर्ट, अपना सूत्र के माध्यम से अनुमंडल डीएसपी के नेतृत्व में जब जांच शुरू किया है तो पुलिस को एक ऐसा सुराग मिला है जो उसे मामले के उद्भेदन के  तह तक पहुंचा दिया, प्राणपुर थाना के बरीय अधिकारी जब घटनास्थल का दौरा किया है तो उसके आसपास घटना के अंजाम देने आए अपराधियों के द्वारा घटना से पहले मुढ़ी और चटनी खाने के बाद कुछ फेका हुआ हालात में खाद्य पदार्थ मिला था।

 स्थानीय पुलिस यह चटनी इलाके में किस दुकान की है उसे पहचान लिया जब इसी आधार पर जांच करते हुए पुलिस वहां तक पहुंची तो देर रात किसके द्वारा बहुत ज्यादा मात्रा में मुढ़ी-चटनी और भुजा खरीदा गया था यह तस्वीर पुलिस के सामने साफ हो गया पुलिस इसी आधार पर घटना के लाइनर तक जा पहुंचा और जब बाद में लाइनर की भूमिका साफ हो गया तो हल्का दबाब डालने से पूरी कहानी साफ हो गया, पुलिस इस मामले में आठ लोग को गिरफ्तार किया है, जिसमें एक आरोपी बंगाल के मालदा जिला का है, पुलिस के गिरफ्त में आए मोहम्मद अजहर अली, मोहम्मद बशीर, मोहम्मद शफीक उल, मोहम्मद यासीन, मोहम्मद तबारक, मोहम्मद अनारूल बिहार के प्राणपुर, रोशना और मनसाही थाना क्षेत्र से है जबकि मोहम्मद सिराजुल बंगाल के मालदा जिला के हरिशचंद्रपुर से है। पुलिस इस मामले में लूटे गए तीन हज़ार में से आठ हजार नगद कुछ अहम दस्तावेज और 7 मोबाइल बरामद कर लिया है।


Find Us on Facebook

Trending News