पढ़ाते पढ़ाते चलाया चक्कर! यूपी से नाबालिक बहनों को भगाकर मौलवी ले आया बिहार, तलाश करते पहुंच गई पुलिस

 पढ़ाते पढ़ाते चलाया चक्कर! यूपी से नाबालिक बहनों को भगाकर मौलवी ले आया बिहार, तलाश करते पहुंच गई पुलिस

PURNIA : यूपी के जौनपुर जिले के सरायख्वाजा थाना क्षेत्र के एक गांव से तीन दिन पहले मदरसे के मौलवी द्वारा दो गायब नाबालिग बहनों को भगाने का मामला सामने आया था। जिसके बाद से ही यूपी पुलिस लगातार छापेमारी कर रही थी। इस छापेमारी में पुलिस ने मदरसे में पढ़ाने वाले मौलवी के घर पूर्णियाबिहार से तीसरे दिन देर रात बरामद कर लिया है। लड़कियों को भगाने वाले गांव के मदरसे में पढ़ाने वाले मौलवी को भी पुलिस ने हिरासत में लिया है।

 लड़कियों की बरामदगी व आरोपी की गिरफ्तारी से पुलिस ने राहत की सांस ली है।पुलिस के अनुसारआरोपित मौलवी जमशेर ग्राम हतवाबुना थाना रौता जनपद पूर्णिया, बिहार का निवासी था। पुलिस ने बताया कि सरायख्वाजा के एक गांव के मदरसे में पढ़ाने वाला मौलवी नाबालिग सगी बहनों को बहला-फुसलाकर अपने गांव पूर्णिया जनपद बिहार भगा ले गया था। दूसरे दिन परिजनों ने इस बात की शिकायत पुलिस से की।

फोन सर्विलांस में बिहार में मिला लोकेशन

दोनों किशोरियों के परिजनों की शिकायत के आधार पर पुलिस तुरंत हरकत में आई और मौलवी का फोन सर्विलांस पर लगा दिया। जिसका लोकेशन पूर्णियाबिहार मिला और सीओ सदर एसएचओ ने एक पुलिस टीम गठित कर परिजनों के साथ बिहार के लिए रवाना कर दिया। देर रात पुलिस ने मौलवी को उसी के घर से गिरफ्तार कर लिया है। जहां से दोनों लड़कियां भी बरामद हुई हैं।

किशोरियों को बात करने के लिए दिया था मोबाइल

एसएचओ जगदीश कुशवाहा ने बताया कि एक नाबालिग लड़की से मौलवी बातचीत करता था। उसने लड़की को बातचीत करने के लिए मोबाइल दिया था। जिसको उसकी मां ने तोड़ दिया था। इसके बाद उसने फिर एक मोबाइल दिया जिसकी जानकारी माता-पिता को नहीं थी। बातचीत करते करते वह उस लड़की को अपने गांव भगा ले गया। सूचना के बाद जिसे सकुशल बरामद कर लिया गया है। अब पुलिस का कहना है कि दोनों बहनों के मेडिकल परीक्षण के बाद उसके खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी।

Find Us on Facebook

Trending News