जान जोखिम में डाल रोजाना नाव से स्कूल जा रहे बच्चे और शिक्षक, जिले में फिर बढ़ने लगा बाढ़ का खतरा

जान जोखिम में डाल रोजाना नाव से स्कूल जा रहे बच्चे और शिक्षक, जिले में फिर बढ़ने लगा बाढ़ का खतरा

BHAGALPUR :  भागलपुर में जान जोखिम में डाल कर नाव के सहारे बच्चे और शिक्षक स्कूल जा रहे है। इन दिनों एक वीडियो सामने आया है। जहां एक ही नाव पर स्कूल के बच्चे और उसी स्कूल के शिक्षक नजर आ रहे है। ये विडियो भागलपुर जिले के सबौर इलाके का है। जहां संतनगर प्राथमिक विद्यालय सबौर के छात्र और शिक्षक एक ही नाव के सहारे स्कूल की ओर जाते दिखे। दरअसल भागलपुर जिले में गंगा के बढ़ते जलस्तर के कारण जिले में दो महीने के भीतर दूसरी बार बाढ़ का खतरा बढ़ गया है। सबौर इलाको मे जहां कुछ दिनों पहले ही बाढ़ का पानी उतरा था। अब एक बार फिर से ऊपर चढ़ने लगा है। 

स्कूल की शिक्षिका कुमारी प्रियंका ने बताया कि पिछले दो तीन दिन से वे सभी शिक्षक और बच्चे इसी नाव के सहारे रोजाना स्कूल जा रही हैं। उन्होंने बताया कि ऐसे स्कूल जाने में उन्हें काफी परेशानी हो रही है। साथ ही जान का खतरा भी लग रहा है। वहीं दूसरे शिक्षक ने बताया कि उन्हें तो अब इन सब चीजों की आदत हो गई हैं।  शिक्षक बताते है कि डर तो लगता है,लेकिन जब भी पानी आता है। हमे ऐसे ही जाना पड़ता है। उन्होंने बताया कि बच्चो का परीक्षा होने वाला है। इसीलिए स्कूल भी बंद नहीं किया गया है।

गौरतलब है कि पिछले कुछ दिनो से गंगा नदी के जलस्तर में अप्रत्याशित रूप से बढ़ोतरी हुई है। न सिर्फ भागलपुर, बल्कि,पटना. बक्सर सहित बिहार के जिन शहरों से गंगा नदी गुजरती है, वहां बाढ़ का खतरा बढ़ा हुआ है। साथ ही छठ को लेकर घाटों की सफाई में भी परेशानी आ रही है।


Find Us on Facebook

Trending News