चीन सीमा पर तैनात कुशीनगर के जवान की हृदय गति रुकने से मौत, इलाके में शोक की लहर

चीन सीमा पर तैनात कुशीनगर के जवान की हृदय गति रुकने से मौत, इलाके में शोक की लहर

KUSHINAGAR : कुशीनगर जिले के कसया तहसील क्षेत्र के ग्राम बदुराव निवासी रामेश्वर गुप्ता (45) भारतीय थल सेना में जवान थे. वर्तमान में चीन सीमा पर सुकिया करौंधी बॉर्डर पर तैनात थे. सेना के तरफ से उनके बड़े पुत्र अजीत को फोन पर दुखद सूचना देते हुए बताया गया कि रामेश्वर गुप्ता की हृदय गति रुकने से मौत गयी है. 

पोस्टमार्टम करने के साथ ही अन्य जरूरी प्रक्रिया पूरी करने के बाद उनका पार्थिव शरीर विमान के द्वारा गुरुवार को सुबह आठ बजे वाराणसी पहुंचेगा. जहां से सड़क मार्ग से शव को बदुराव गांव पहुंचाया जायेगा. पूरे सैनिक सम्मान से उन्हें अंतिम विदाई दी जाएगी।

बेटी के हाथ पीले करने का सपना रह गया अधूरा

चीन सीमा पर शहीद सैनिक रामेश्वर के परिवार में दो बेटे और दो बेटियां है. अगले साल अप्रैल माह में बड़ी बेटी की शादी तय है. बड़े पुत्र अजीत के मुताबिक तैनाती स्थल पर उनके मोबाइल पर बात नहीं हो पाती थी. उधर से ही फोन करके घर का हाल चाल लेते थे. पांच अक्टूबर को फोन किए थे तो शादी की तैयारी करने को कहा था और कोई परेशानी आए तो बताने को कहा था. 

अब अचानक मौत की खबर से पूरे परिवार का रो रो कर बुरा हाल है. लोग घर पहुँचकर शोक संवेदना व्यक्त कर रहे हैं. कसया के ज्वाइंट मजिस्ट्रेट (एसडीएम ) पूर्ण बोहरा ने बताया कि सैनिक का पार्थिव शरीर गुरुवार को गांव पहुंचने की संभावना है. सैनिक सम्मान के साथ उन्‍हें अंतिम विदाई दी जाएगी. 

कुशीनगर से विद्या बाबा की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News