CM नीतीश ने बिहार को कुशासन के गर्त में गिरा दिया, नेता प्रतिपक्ष का सरकार पर हमला, हत्या-लूट-डकैती में हुई भारी वृद्धि

CM नीतीश ने बिहार को कुशासन के गर्त में गिरा दिया, नेता प्रतिपक्ष का सरकार पर हमला, हत्या-लूट-डकैती में हुई भारी वृद्धि

पटना. महागठंबधन सरकार के 100 दिन पूरे होने पर बिहार विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष विजय कुमार सिन्हा ने प्रदेश में बढ़ते क्राइम को लेकर सीएम नीतीश और डिप्टी सीएम तेजस्वी पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि महागठबंधन सरकार बनने के बाद से बिहार में हत्या, डकैती, लूट एवं अन्य अपराधिक घटनाओं में भारी वृद्धि हुई है।

विजय सिन्हा ने कहा कि अगस्त 2022 में  महागठबंधन की सरकार बनने के बाद अकेले अगस्त माह में हत्या में 257 लोगों की जान गई। उसी माह लूट, डकैती, चोरी एवं अपरहण की 5000 से अधिक घटना हुई। लोगों का राज्य में कहना है कि राज्य के सभी जिलों में हुई हत्या, एवं गोली के शिकार लोगों की मीडिया में छपी खबर का संज्ञान लिया जाय तो यह ऑंकड़ा अगस्त से अभी तक 1000 से उपर चला गया है। उन्होंने कहा कि पटना अब लूट की राजधानी बन चुका है। यहां 17 करोड़ से अधिक का सोना लूटा जा चुका है। राज्य का गृह विभाग 17 वर्षो से मुख्यमंत्री के जिम्में है।

विज सिन्हा ने कहा कि अपराध की बहुत घटनाएं थानों में दर्ज नहीं की जाती है। यदि इन सभी को सूचीबद्ध किया जाय तो आंकड़ा बहुत बढ़ जाएगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार अपराध रोकने में विफल हो चुकी है। अपराध रोकने हेतु निषेधात्मक कार्य नहीं किए जा रहे हैं। 3.50 लाख से अधिक मामले अनुसंधान हेतु पुलिस के स्तर पर लंबित है।

नेता प्रतिपक्ष सिन्हा ने मुख्यमंत्री द्वारा गांधी मैदान में कथित नियुक्ति पत्र बंटवारे में अपने भाषण में तीन माह में अनुसंधान कार्य पूरा करने हेतु पुलिस को निदेश पर तंज कसते हुए कहा कि मुख्यमंत्री को 16 फरवरी 2023 को समीक्षा करनी चाहिए कि उनके निदेश का कितना पालन हुआ है। विजय सिन्हा ने कहा राज्य में भ्रष्ट पदाधिकारियों को संरक्षण एवं ईमानदार पदाधिकारियों की उपेक्षा के कारण उनका मनोबल गिर गया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री पद का सपना देखते देखते मुख्यमंत्री ने बिहार को कुशासन के गर्त में गिरा दिया है।

Find Us on Facebook

Trending News