सीएम नीतीश ने नवनियुक्त 10,459 पुलिस पदाधिकारियों/ कर्मियों को दिया नियुक्ति पत्र, डीजीपी एस के सिंघल ने दिलाई शपथ

सीएम नीतीश ने नवनियुक्त 10,459 पुलिस पदाधिकारियों/ कर्मियों को दिया नियुक्ति पत्र, डीजीपी एस के सिंघल ने दिलाई शपथ

PATNA : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार आज गृह विभाग द्वारा नवनियुक्त 10,459 पुलिस पदाधिकारियों / कर्मियों के नियुक्ति पत्र वितरण समारोह में शामिल हुए। पटना के गांधी मैदान में आयोजित नियुक्ति पत्र वितरण समारोह में नवनियुक्त 215 सार्जेंट, 1,998 सब इंस्पेक्टर एवं 8,246 सिपाहियों को नियुक्ति पत्र प्रदान किया गया। इन नवनियुक्त 10,459 पुलिस पदाधिकारियों / कर्मियों में 3,852 महिलाएं शामिल हैं जो आज नवनियुक्त पुलिस बल का 36.8 प्रतिशत है। मुख्यमंत्री ने नवनियुक्त पुलिस पदाधिकारियों / कर्मियों को सांकेतिक रूप से नियुक्ति पत्र प्रदान किया। पुलिस महानिदेशक संजीव कुमार सिंघल ने नवनियुक्त पुलिस पदाधिकारियों / कर्मियों को पुलिस सेवा से संबंधित शपथ दिलाई। मुख्य सचिव आमिर सुबहानी ने नवनियुक्त पुलिस पदाधिकारियों / कर्मियों को शराब का सेवन नहीं करने एवं शराबबंदी कानून का उल्लंघन करने वालों के विरुद्ध विधिसम्मत कठोर कार्रवाई करने से संबंधित शपथ दिलाई। 

समारोह को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार में कानून का राज स्थापित है। इसे बनाये रखना सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। कानून का राज कायम रखना सरकार का दायित्व है। पहले बिहार में सिर्फ 42 हजार 481 पुलिसकर्मी थे। जबसे हमें काम करने का मौका मिला है, अपराध नियंत्रण को ध्यान में रखते हुए हमने शुरू से ही पुलिस की संख्या बढ़ाने पर जोर दिया है। विधि व्यवस्था को कायम रखने के लिए पहले हमने आर्मी से रिटायर्ड जवानों को सैप (स्पेशल ऑग्जिलियरी पुलिस) में बहाल कराया। हमने कहा है कि उनको भी कायम रखिये और ये साठ साल बाद ही रिटायर होंगे। हमने देखा कि वर्ष 2010 में देश में एक लाख की आबादी पर 115 पुलिसकर्मी थे, बिहार में यह संख्या कम थी। उसके अनुसार 1 लाख 52 हजार 232 और पुलिसकर्मियों की आवश्यकता थी। हमने गृह विभाग की हर बैठक में कहा कि बहाली के काम में तेजी लाकर पुलिसकर्मियों की नियुक्ति करें जिसके बाद बिहार में अब तक 1 लाख 8 हजार से ज्यादा पुलिसकर्मियों की बहाली हो चुकी है। 1 लाख 52 हजार 232 पदों में से अभी भी 44 हजार पुलिसकर्मियों की बहाली होनी है। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि इसमें देर न करें यथाशीघ्र बहाली कराएं। यह काम पूरा हो जाएगा तो हमें बेहद खुशी होगी। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 2013 में हमने पुलिस सेवा में महिलाओं को 35 प्रतिशत आरक्षण देने का निर्णय किया। जिसका परिणाम हैं कि आज बिहार पुलिस में 25 प्रतिशत महिलायें सेवारत हैं। आज नियुक्ति पत्र मिलने के बाद बिहार के पुलिस बल में 27 प्रतिशत महिलायें शामिल हो जायेंगी। उन्होंने कहा कि हम पुरुषों से कहेंगे कि महिला के प्रति सम्मान का भाव रखिये। माँ ही हमें जन्म देती है इसलिये समाज में महिलाओं क भूमिका है। पहले महिलायें घरों में बंद रहती थीं, अब हर काम में लगी रहती हैं। हम चाहते हैं कि समाज में महिलाओं की समान भागीदारी हो। मुख्यमंत्री ने कहा कि अभी देश के अलग-अलग राज्यों में 1 लाख की आबादी पर 115 से ज्यादा पुलिसकर्मियों की संख्या है जिसको ध्यान में रखते हुए बिहार में भी इसे बढ़ाकर 160 से 170 करने का निर्णय लिया गया है। उसी के अनुरूप हमें तेजी से नियुक्ति करनी है। उन्होंने कहा कि इस ऐतिहासिक गांधी मैदान में नियुक्ति पत्र वितरण का कार्यक्रम इसलिए रखा गया है कि सामने बापू की प्रतिमा है और ठीक इसके बगल में बापू सभागार भी है इसलिए अपने राष्ट्रपिता को आप कभी भूलियेगा मत।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पहले जब बिहार झारखंड एक था तो प्रशिक्षण की व्यवस्था झारखंड के इलाके में थी। अब राजगीर पुलिस एकेडमी में प्रशिक्षण देने का काम किया जा रहा है जिसका विस्तार करना है। उन्होंने कहा कि कभी-कभी आधी ट्रेनिंग लेने वाले पुलिसकर्मियों को भी काम में लगा दिया जाता है। ऐसा करने से बचें, पूरा प्रशिक्षण लेने के बाद ही कर्मियों को काम पर लगायें। इसके बेहतर परिणाम मिलेंगे। बहाली और प्रशिक्षण का काम ठीक ढंग से ससमय कराएं ताकि बिहार में कानून का राज कायम रहे, यही हमारी इच्छा है। नवनियुक्त पुलिसकर्मियों से आह्वान करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि आपलोग अपना काम ठीक ढंग से कीजियेगा, मुझे खुशी होगी। आज आपने जो शपथ ली है उसे भूलियेगा मत। शराब का सेवन खुद कभी नहीं करियेगा और न ही दूसरों को करने दीजियेगा। इससे समाज में काफी बेहतरी आएगी। समाज में कुछ लोग गड़बड़ करने वाले होते हैं। 90 प्रतिशत लोग ठीक हैं, शेष 10 प्रतिशत लोगों को भी ठीक करने का प्रयास करते रहना है आपलोगों से अनुरोध है कि आज लिये गये शपथ के अनुसार काम कीजियेगा। अपराध नियंत्रण में पूरा सहयोग दीजियेगा नियुक्ति पत्र वितरण समारोह में नवनियुक्त पुलिसकर्मियों ने मुख्यमंत्री के समक्ष दोनों हाथ उठाकर शराब का सेवन नहीं करने और दूसरों को भी शराब का सेवन नहीं करने देने का संकल्प लिया।

Find Us on Facebook

Trending News