रक्षाबंधन पर CM नीतीश ने पेड़ों को राखी बांधकर दिया पर्यावरण सुरक्षा का संदेश, जातीय जनगणना पर कहा- पीएम से मुलाकात के बाद ही आगे होगी बात

रक्षाबंधन पर CM नीतीश ने पेड़ों को राखी बांधकर दिया पर्यावरण सुरक्षा का संदेश, जातीय जनगणना पर कहा- पीएम से मुलाकात के बाद ही आगे होगी बात

पटना. रक्षाबंधन के अवसर पर प्रदेश के मंख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पेड़ों को राखी बांधते हुए पर्यावरण सुरक्षा का संदेश दिया. इस दौरान उन्होंने कहा कि जिस तरह हमलोग भाई-बहन की रक्षा को लेकर रक्षाबंधन मनाते हैं, ऐसे ही हमें पेड़ों को राखी बांधकर रक्षा की शपथ लेनी चाहिए. उन्होंने कहा कि पार्यवरण संरक्षण को लेकर 2012 से रक्षाबंधन के अवसर पर वृक्ष सुरक्षा दिवस मनाया जाता है और पौधारोपण किया जाता है. इस दौरान उन्होंने लोगों से भी पेड़ों की सुरक्षा को लेकर अपील और पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया.

वहीं इस दौरान उन्होंने उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह की मौत पर संवेदना जाहिर करते हुए कहा कि यह शोक की घड़ी है. कल्याण सिंह के साथ मेरा पहले से ही रिश्ता अच्छा रहा. इस बीच कई बार उनकी तबियत बिगड़ने की सूचना मिलती रहती थी. इस बीच सीएम ने पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए शोक व्यक्त किया.

वहीं उन्होंने जातीय जनगणना के सावल पर कहा कि कल यानी सोमवार को पीएम से मीटिंग है. इसके लिए 11 चुने गये हैं. कुछ लोग पहले ही दिल्ली जा चुके हैं और कुछ लोग आज दिल्ली जाएंगे. उन्होंने कहा कि सोमवार को 11 बजे पीए नरेंद्र मोदी से मुलाकात होगी. इसके बाद ही जातीय जनगणना पर कुछ कहा जा सकता है. साथ ही उन्होंने कहा कि जातीय जनगणना होनी चाहिए, यह केवल बिहार का मामला नहीं है, बल्कि इससे पूरा देश जुड़ा है. ऐसे में एक बार जातीय जनगणना होनी ही चाहिए.


Find Us on Facebook

Trending News