CM नीतीश अपने कार्यकाल में अंतिम बार करेंगे झंडोत्तोलन,स्वतंत्रता दिवस पर मुख्यमंत्री कर सकते हैं बड़ा ऐलान

 CM नीतीश अपने कार्यकाल में अंतिम बार करेंगे झंडोत्तोलन,स्वतंत्रता दिवस पर मुख्यमंत्री कर सकते हैं बड़ा ऐलान

पटनाः स्वतंत्रता दिवस पर झंडोतोलन के लिए पटना का गांधी मैदान पूरी तरह सज धजकर तैयार हो गया है। कार्यक्रम की सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है। सुबह 9 बजे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार तिरंगा फहराएंगे।झंडोत्तोलन के बाद आर्मी, सीआरपीएफ, एसएसबी, सीआईएसएफ, बीएमपी, आईटीबीपी, एनडीआरएफ, एसडीआरएफ के साथ-साथ सैप, डीएपी, होमगार्ड और एनसीसी का परेड और सलामी होगी।मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अपने इस कार्यकाल में अंतिम बार झंडोत्तोलन करेंगे।क्यों कि इसी साल बिहार में विधान सभा के चुनाव होने हैं।

सीएम नीतीश कर सकते हैं बड़ा ऐलान 

सीएम नीतीश कुमार 2015-2020 के कार्यकाल में अंतिम बार स्वतंत्रता दिवस पर गांधी मैदान में झंडा फहरायेंगे।लिहाजा इस बार मुख्यमंत्री कोई बड़ी घोषणा कर सकते हैं।खबर है कि इस बार के झंडोत्तोलन को यादगार बनाने के लिए नीतीश कुमार बड़ा ऐलान करेंगे।जानकार बताते हैं कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार नियोजित शिक्षकों की सेवा शर्त लागू किए जाने की घोषणा कर सकते हैं।शिक्षकों के लिए सेवा शर्त नियमावली को अंतिम रुप दे दिया गया है। चार लाख शिक्षकों के हित में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बड़ा फैसला ले लिया है सिर्फ ऐलान बाकी है। सरकार उनके पदनाम से 'नियोजित' शब्द को हटाने जा रही है। इसका प्रावधान शिक्षा विभाग ने शिक्षकों के लिए तैयार सेवा शर्त नियमावली में किया है। 

पांच सितंबर से लागू हो सकती हैं सेवा शर्तें

सरकार के इस कदम को विधानसभा चुनाव से पहले नाराज नियोजित शिक्षकों को मनाने का कदम भी माना जा रहा है। सूत्र बताते हैं कि शिक्ष दिवस के अवसर पर पांच सितम्बर तक सरकार शिक्षकों को यह तोहफा दे सकती है। इसकी घोषणा 15 अगस्त को मुख्‍यमंत्री कर सकते हैं। शिक्षकों की सेवा शर्त लागू होने से ऐच्छिक स्थानांतरण, प्रोन्नति का लाभ और सेवा निरतंरता जैसे महत्वपूर्ण बिन्दुओं पर लाभ मिलेगा। सेवा शर्त लागू होने के बाद पौने चार लाख शिक्षक राज्‍य में कहीं भी ऐच्छिक स्थानांतरण करा सकेंगे। उन्‍हें ईपीएफ और प्रमोशन भी मिलेगा। इसके अलावा सरकार अनुकम्पा के इंतजार में बैठे आश्रितों को भी लाभ देगी. 

कोरोना वॉरियर्स होंगे सम्मानित
झंडोतोलन के बाद जिला प्रशासन कोरोना वॉरियर्स को सम्मानित करेगा। इसमें 100 से अधिक फ्रंट लाइनर्स होंगे। पुलिसकर्मी, डॉक्टर, नर्स और प्लाजमा डोनर को सम्मानित किया जाएगा। प्लाजमा डोनर्स के लिए अलग से बैठने की व्यवस्था की गई है।


Find Us on Facebook

Trending News