सांसदों-विधायकों से डरे CM नीतीश ! समाधान यात्रा में MP-MLA-MLC का 'वैल्यू' नहीं, मीटिंग में जाना जरूरी नहीं...चले भी गए तो समस्या उठाने पर रोक

सांसदों-विधायकों से डरे CM नीतीश ! समाधान यात्रा में MP-MLA-MLC का 'वैल्यू' नहीं, मीटिंग में जाना जरूरी नहीं...चले भी गए तो समस्या उठाने पर रोक

PATNA: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार समाधान यात्रा पर निकल रहे हैं। उनकी यह यात्रा 4 जनवरी से सात फऱवरी तक चलेगी। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार वैसे तो समस्या का समाधान करने जा रहे लेकिन इस यात्रा में स्थानीय सांसदों-विधायकों व विधान पार्षदों को दूर रखने की पूरी कोशिश की गई है। सांसदों-विधायकों को सीएम नीतीश की बैठक में मौजूद रहना जरूरी नहीं। अधिकारी उऩ्हें प्रोटोकॉल के तहत आमंत्रित करेंगे या नहीं, इस पर सरकार ने अपनी स्थिति साफ नहीं की है।हालांकि नीतीश सरकार यह बताना नहीं भूली कि अगर विधायक-सांसद मीटिंग में आ भी गए तो वे तय एजेंडा के तहत ही बात करेंगे. मीटिंग में आप क्षेत्र की कोई समस्या नहीं उठा सकते. इसकी पूरी मनाही होगी।  इस तरह से नीतीश कुमार के समाधान यात्रा में स्थानीय जनप्रतिनिधियों के मुंह पर ताला लगाने की कोशिश की गई है।

समाधान यात्रा में सांसदों-विधायकों का वैल्यू नहीं 

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की समाधान यात्रा को लेकर कैबिनेट सचिवालय की तरफ से पत्र जारी किया गया है। पत्र में कहा गया है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार समाधान यात्रा में योजना से संबंधित क्षेत्र भ्रमण करेंगे. इसके अलावे चिन्हित समूहों के साथ बैठक करेंगे और जिला स्तरीय समीक्षा मीटिंग करेंगे। बैठक के संबंध में कहा गया है कि समाधान यात्रा की समीक्षा बैठक में जिले के प्रभारी मंत्री एवं जिले के निवासी मंत्री मौजूद रहेंगे. संबंधित जिले के जिलाधिकारी इन मंत्रियों को उपस्थित रहने का अनुरोध करेंगे. विभागीय मंत्री सशरीर बैठक में शामिल नहीं होंगे. वह वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़ेंगे. वहीं इस समीक्षा बैठक में स्थानीय सांसद, विधायक, विधान पार्षद स्वेच्छा से भाग लेंगे. लेकिन समीक्षा के बिंदु जो निर्धारित हैं उसी के अंतर्गत अपनी बात रखेंगे. यानी सरकार ने स्पष्ट कर दिया है कि उन्हें बैठक में शामिल होना जरूरी नहीं. क्या उन्हें बुलाया जाएगा? उनके प्रोटोकॉल का ख्याल रखा जाएगा? इन तमाम बातों का कोई जिक्र नहीं है. लेकिन इस पत्र में यह साफ जरूर कर दिया गया है कि निर्धारित विषय के अलावा आप कुछ नहीं बोल सकते हैं. यानी कि जनप्रतिनिधियों के मुंह पर ताले लगा दिए गए हैं. कैबिनेट सचिवालय के इस पत्र को देख सांसदों-विधायकों का दिमाग चकरा गया है। उन्हें समझ में नहीं आ रहा कि वे क्या करेंगे....अगर वहां गए और सम्मान नहीं मिला तो भारी बेइज्जती होगी. 

समाधान यात्रा में करेंगे तीन काम 

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के समाधान यात्रा के संबंध में मंत्रिमंडल सचिवालय विभाग ने सभी विभागों के अपर मुख्य सचिव, जिलों के प्रभारी सचिव, प्रमंडलीय आयुक्त, पुलिस महानिरीक्षक, डीएम और एसपी को पत्र भेजा है. पत्र में कहा गया है कि सीएम नीतीश कुमार 4 तारीख को वाल्मीकि नगर में रात्रि विश्राम करेंगे. 5 तारीख को पश्चिम चंपारण के बेतिया में रहेंगे और रात्रि विश्राम सीतामढ़ी करेंगे.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार  6 तारीख को शिवहर और सीतामढ़ी में भ्रमण करेंगे और शाम में वापस पटना लौट जाएंगे .7 तारीख को वैशाली रहेंगे और शाम में फिर वापसी का कार्यक्रम है. 8 तारीख को सिवान में तीनों कार्यक्रम में शामिल होंगे।  9 तारीख को सारण, 11 तारीख को मधुबनी में रहेंगे. 12 तारीख को दरभंगा में कार्यक्रम कर वापस पटना लौटना है. 12 जनवरी के बाद 17 जनवरी को नीतीश कुमार समाधान यात्रा पर जायेंगे। इस दिन  सुपौल में कार्यकम करेंगे और सहरसा में रात्रि विश्राम करेंगे. 18 तारीख को सहरसा में कार्यक्रम होगा और अररिया में रात्रि विश्राम करेंगे। 19 तारीख को अररिया में भ्रमण कार्यक्रम और किशनगंज में रात्रि विश्राम. 20 तारीख को किशनगंज में कार्यक्रम करेंगे और पूर्णिया में रात्रि विश्राम करेगे। 21 तारीख को कटिहार का कार्यक्रम है और खगड़िया में रात्रि विश्राम करेंगे. 22 तारीख को खगड़िया में कार्यक्रम कर वापस पटना लौट आएंगे. 28 तारीख को बांका में कार्यक्रम होगा और मुंगेर में रात्रि विश्राम करेंगे. 29 तारीख को मुंगेर लखीसराय और शेखपुरा जिले का कार्यक्रम होगा और फिर वापस पटना लौट जाएंगे.

समाधान यात्रा की समीक्षा बैठक में जिले के प्रभारी मंत्री एवं उस जिले के निवासी मंत्री उपस्थित रहेंगे. इसके साथ ही समीक्षा बैठक में मुख्य सचिव एवं पुलिस महानिदेशक तथा संबंधित विषयों के अपर मुख्य सचिव, प्रधान सचिव बैठक में उपस्थित रहेंगे. संबंधित विभागों के मंत्री एवं अन्य अधिकारी इन समीक्षा बैठक में वीसी के माध्यम से जुड़ेंगे. अन्य विभागों के अधिकारी भी वीसी के माध्यम से समीक्षा बैठक में जुड़ेंगे। 

Find Us on Facebook

Trending News