मुख्यमंत्री के दरबार में CM नीतीश के 'निश्चय' की खुली पोल, शिकायतकर्ताओं ने कहा- सर....नल-जल योजना पूरी तरह से बोगस है

मुख्यमंत्री के दरबार में CM नीतीश के 'निश्चय' की खुली पोल, शिकायतकर्ताओं ने कहा- सर....नल-जल योजना पूरी तरह से बोगस है

PATNA: मुख्यमंत्री नीतीश का जनता दरबार चल रहा है। सीएम नीतीश लगातार दूसरे सोमवार को जनता के दरबार में हाजिर होकर लोगों की शिकायत सुन रहे हैं। मुख्यमंत्री के दरबार में आज सीएम नीतीश के निश्चय योजना की पोल खुल गई। कई शिकायतकर्ताओं ने मुख्यमंत्री से कहा कि योजना पूरी तरह से बोगस है। नल -जल योजना का लाभ नहीं मिल रहा। धरातल पर कोई काम नहीं दिख रहा। नल तो है लेकिन उसमें जल नहीं आता।

शिकायतकर्ताओं ने खोली पोल

मुजफ्फफर के कटरा और पश्चिम चंपारण के चनपटिया से आये शिकायतकर्ताओं ने मुख्यमंत्री ने कहा कि जन-जल योजना में भारी गड़बड़ी है। शिकायत करने पर मुखिया द्वारा धमकी दी जाती है। दिखावे के लिए टंकी लगा दिया दिया गया लेकिन पानी नहीं आ रहा। वहीं पाइप भी बहुत घटिया लगाया गया है। 

 खगड़िया के परबत्ता से आये एक शख्स ने शिकायत की है इंदिरा आवास योजना का लाभ जानबूझ कर नहीं दिया जा रहा। किसी ने साजिश कर मेरे यहां लैंडलाइन नंबर के बारे में शिकायत कर दी। इस आधार पर उनका आवेदन खारिज कर दिया गया है। जबकि इस तरह की कोई बात नहीं वे बहुत ही गरीब हैं और झोपड़ी में रहते हैं। इस पर सीएम नीतीश ने गहरी आपत्ति जताई।

सीएम नीतीश ने सचिव को लगाया फोन

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने तुरंत ग्रामीण विकास विभाग के सचिव अरविंद चौधरी को फोन लगाया। उन्होंने कहा कि पूरे मामेल को देखिए और जांच कराइए कि किसने इनके नाम पर टेलिफोन का लैंडलाईन नंबर जुड़वा दिया। जिस आधार पर इनका आवेदन खारिज किया गया है।  

Find Us on Facebook

Trending News