CM नीतीश IGIC के नए भवन का कल करेंगे उद्घाटन,मंगल पांडेय ने नए भवन का किया निरीक्षण

CM नीतीश IGIC के नए भवन का कल करेंगे उद्घाटन,मंगल पांडेय ने नए भवन का किया निरीक्षण

Patna :  पटना के इंदिरा गांधी हृदय रोग संस्थान में लगभग 60 करोड़ की लागत से नया भवन बनकर तैयार हुआ है। इस नवनिर्मित भवन का कल 8 अगस्त को सीएम नीतीश कुमार उद्घाटन करेंगे। 

वहीं उद्घाटन से पहले आज स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने भवन का निरीक्षण किया। वहीं मंत्री ने इस हृदय रोग संस्थान में छह बेडों के स्टेप डाउन इंटेंसिव केयर यूनिट का भी उद्घाटन किया।

स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि इंदिरा गांधी हृदय रोग संस्थान में लगभग 60 करोड़ की लागत से बने इस नये भवन में 20 करोड़ के फर्निचर और 53 करोड़ के अत्याधुनिक उपकरण लगाये जायेंगें। इस तरह स्वास्थ्य विभाग इस संस्थान पर लगभग 133 करोड़ रुपये खर्च कर रही है। इस में आधुनिकतम सुविधाएं भी उपलब्ध रहेंगी। 

उन्होंने कहा कि संस्थान में अभी कुछ विशेषज्ञ चिकित्सकों की नियुक्ति की गयी है। नवनिर्मित भवन में बाहरी मरीजों को तुरंत देखने की व्यवस्था करने का निर्देश भी दिया गया है। मंगल पांडेय ने कहा कि पहले यहां इस तरह के दो बेड की सुविधा उपलब्ध थी। शल्य चिकित्सा के बाद मरीजों को तत्काल इसकी आवश्यकता होती है। इससे मरीजों को अत्याधुनिक सुविधा का लाभ मिलेगा और उन्हें राहत मिलेगी। ऑपरेशन के बाद इस तरह बेड की संख्या बढ़कर आठ हो गई है। वहीं स्वास्थ्य मंत्री ने पीएमसीएच के प्राचार्य कक्ष में इस अस्पताल में चल रहे कोविड वार्ड में मरीजों के चल रहे इलाज की विस्तृत समीक्षा की। 

मंत्री ने चिकित्सकों को सभी मरीजों का बेहतर निगरीनी के साथ कोविड मरीजों की डायलिसिस का भी आदेश दिया। डायलिसिस की सुविधा एक सप्ताह में मिलने लगेगी। 

मंगल पांडेय ने बताया कि यहां 108 बेड का कोविड वार्ड चालू हो गया है। इस वार्ड में सभी बेडों को ऑक्सीजन गैस पाइप लाइन से जोड़ा गया है। अभी 26 बेडों में कॉलबेल लगाया गया है। बाकी बेडों पर भी लगाने की व्यवस्था की जा रही है। इसी तरह अगले चार दिनों में 25 बेडों पर वेंटिलेटर की व्यवस्था हो जायेगी।

उन्होंने बताया कि राज्य सरकार की ओर से निःशुल्क कोरोना जांच की सुविधा सभी अस्पतालों में उपलब्ध करायी गयी है, जांच की क्षमता निरंतर बढ़ रही है और अब रोज ज्यादा से ज्यादा लोगों को यह सुविधा उपलब्ध हो रही है। आज शुक्रवार को 71 हजार 520 मरीजों की जांच की गयी है।


Find Us on Facebook

Trending News