कांग्रेस ने 'नीतीश' को नहीं दिया भाव..PM पद की रेस से हुए बाहर ! मुख्यमंत्री बोले- हम तो क्लेमेंट ही नहीं...मेरा बारे में 'झुट्ठो' चर्चा है

कांग्रेस ने 'नीतीश' को नहीं दिया भाव..PM पद की रेस से हुए बाहर ! मुख्यमंत्री बोले- हम तो क्लेमेंट ही नहीं...मेरा बारे में 'झुट्ठो' चर्चा है

PATNA: बिहार की सत्ताधारी जेडीयू मुख्य़मंत्री नीतीश कुमार को प्रधानमंत्री पद का दावेदार बताते नहीं थक रही। पार्टी की हर मीटिंग में नीतीश कुमार को पीएम मैटेरियल बताया जाता है। जेडीयू के नेता यह कहते नहीं थकते कि 2024 चुनाव के बाद नीतीश कुमार लाल किले की प्राचीर से तिरंगा फहरायेंगे। भाजपा से अलग होने के बाद नीतीश कुमार मन में पीएम की कुर्सी की लालसा लिए व विपक्षी दलों को एकजुट करने को लेकर दिल्ली दौरा भी कर चुके हैं. उन्होंने विपक्षी नेताओं के साथ मीटिंग भी की पर बात नहीं बनी. कांग्रेस की तरफ से भाव नहीं मिलने से सीएम नीतीश पीएम पद को लेकर चुप हो गए थे। अब तो कांग्रेस के वरिष्ठ नेता की तरफ से साफ कर दिय़ा गया है कि ''राहुल गांधी विपक्ष का चेहरा ही नहीं, बल्कि प्रधानमंत्री का चेहरा भी होंगे.’’इसके बाद नीतीश कुमार ने पीएम पद की रेस से अपना नाम अलग करते हुए कह दिया कि यह सब झुठ है. हमारी कोई अभिलाषा नहीं है।

पीछे हटे नीतीश कुमार 

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा है कि राहुल गांधी 2024 के लोकसभा चुनाव में विपक्ष का चेहरा ही नहीं, बल्कि प्रधानमंत्री पद का चेहरा भी होंगे. उन्होंने एक मीडिया चैनल को दिए इंटरव्यू में यह भी कहा कि राहुल गांधी सत्ता की नहीं, बल्कि जनता की राजनीति करते हैं, ऐसे नेता को देश के लोग खुद-ब-खुद सिंहासन पर बैठा देते हैं. यह पूछे जाने पर कि क्या राहुल गांधी अगले लोकसभा चुनाव में विपक्ष का चेहरा हो सकते हैं, तो कमलनाथ ने कहा, ‘‘जहां तक 2024 के चुनाव का सवाल है, तो राहुल गांधी जी विपक्ष का चेहरा ही नहीं, बल्कि प्रधानमंत्री का चेहरा भी होंगे.’’


पीएम पद की हमारी कोई इच्छा नहीं-नीतीश 

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता के बयान के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने आप को पीएम पद की रेस से अलग कर लिया है। उन्होंने कहा है कि वे प्रधानमंत्री पद के दावेदार नहीं है। यह सब झूठ बात है। उनसे पूछा कि कांग्रेस नेता कमलनाथ ने कहा है कि विपक्ष की तरफ से राहुल गांधी पीएम पद के कैंडिडेट हैं,क्या कहेंगे? इस पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जवाब दिया,'' ठीक है..इसमें क्या बुराई है?  हम लोग भी तो वही कर रहे हैं. कांग्रेस के बारे में कहा कि जरा उन लोगों का अपना चल रहा है, हम लोग तो वेट कर रहे हैं. बाकी सभी पार्टियों से बात हुई है. एक बार मिल जुलकर काम करने की बात हो रही है. जहां तक बात है प्रधानमंत्री का. एक झूठ्ठी बात चल रही है मेरे बारे में, मैं कितना बार कह चुके हैं कि हम नहीं हैं दावेदार. हमारी न तो इच्छा है न ही यह सब बात है. हमारी इच्छा एक ही है कि अधिक से अधिक पार्टियां साथ मिलकर चलें. साथ मिलकर चलेंगे तो तो बहुमत होगा और फिर देश के विकास आगे बढ़ाएंगे. हम लोगों की यही इच्छा है. हम लोगों को कोई दिक्कत नहीं है . नीतीश कुमार ने कहा कि अलग-अलग पूछने से क्या फायदा है. जब सब बैठेंगे तो वहां बात होगी. हम लोग दावेदार नहीं हैं, लेकिन मिलजुलकर तय होगा तभी तो हम कुछ कह पाएंगे.

Find Us on Facebook

Trending News